Mon, Feb 6, 2023
Whatsapp

भूपेंद्र सिंह के साथ दीपेंद्र सिंह खिलाड़ियों के समर्थन में आए, भारत सरकार से की ये मांग

चंडीगढ़: विनेश फोगाट ने भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष पर संगीन आरोप लगाए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ साथ सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा भारतीय कुश्ती महासंघ के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों के समर्थन में आगे आए हैं। हुड्डा ने कहा कि भारतीय कुश्ती महासंघ के अधिकारियों पर लगे आरोप गंभीर और चिंताजनक हैं।

Written by  Vinod Kumar -- January 19th 2023 06:48 PM
भूपेंद्र सिंह के साथ दीपेंद्र सिंह खिलाड़ियों के समर्थन में आए, भारत सरकार से की ये मांग

भूपेंद्र सिंह के साथ दीपेंद्र सिंह खिलाड़ियों के समर्थन में आए, भारत सरकार से की ये मांग

चंडीगढ़: पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ साथ सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा भारतीय कुश्ती महासंघ के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों के समर्थन में आगे आए हैं। हुड्डा का कहना है कि बेहद दुर्भाग्य और शर्म की बात है कि देश का गौरव हमारे खिलाड़ियों को आज सड़कों पर धरना देना पड़ रहा है। 

हुड्डा ने कहा कि भारतीय कुश्ती महासंघ के अधिकारियों पर लगे आरोप गंभीर और चिंताजनक है। सरकार आरोपों की निष्पक्ष व पारदर्शी जांच करवाकर दोषियों पर सख्त कार्रवाई करे। उन्होंने आगे कहा कि जिन खिलाड़ियों को पूरा देश पलकों पर बैठाता है, उन्हें भी धरने पर बैठने के लिए मजबूर किया जा रहा है। महिला पहलवानों ने कुश्ती महासंघ और उसके अध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। इसलिए बिना देरी के कुश्ती महासंघ को बर्खास्त करके सभी आरोपियों को जांच के दायरे में लाया जाए।


भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि निश्चित तौर पर ये तमाम पहलवान देश के खिलाड़ी हैं, लेकिन प्रदेश सरकार को यह भी याद रखना चाहिए कि ज्यादातर खिलाड़ी हरियाणा से संबंधित हैं। इनके अधिकारों को संरक्षण देना और इनके हक में आवाज उठाना प्रदेश सरकार की जिम्मेदारी है, लेकिन इस मामले में हरियाणा सरकार की चुप्पी बेहद निराशाजनक है। यौन उत्पीड़न जैसे मामलों में हर बार प्रदेश सरकार चुप्पी साध लेती है।   

हरियाणा कुश्ती संघ के पूर्व अध्यक्ष और सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि देश के खिलाड़ियों द्वारा भारतीय कुश्ती महासंघ पर लगाये गए आरोपों की गंभीरता को देखते हुए भारत सरकार दलगत राजनीति से ऊपर उठकर तुरंत प्रभावी कार्रवाई करे और खिलाड़ियों को न्याय दिलाए। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि संगीन आरोपों को देखते हुए आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज हो और सीबीआई जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में समयबद्ध तरीके से कराई जाए। 

दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि ये कोई साधारण घटना नहीं है, खेल जगत की भयंकर दुर्घटना है। उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय कुश्ती महासंघ को भंग किया जाए और किसी भी दोषी को बख्शा न जाए। दीपेंद्र हुड्डा ने आज अपने आवास पर पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार के आरोप लगाये गये हैं, वो किसी एक खिलाड़ी द्वारा व्यक्तिगत रूप से नहीं लगाये गये हैं, बल्कि जो खिलाड़ी पिछले कई वर्षों से देश के लिये मेडल जीतकर ला रहे हैं। 

- With inputs from our correspondent

adv-img

Top News view more...

Latest News view more...