Thu, Feb 2, 2023
Whatsapp

हरियाणा में पंचायत प्रतनिधियों को दिलाई गई शपथ, जुलाना खेड़ी के सरपंच oath के बाद हुए गिरफ्तार

Written by  Vinod Kumar -- December 03rd 2022 01:08 PM -- Updated: December 03rd 2022 02:10 PM
हरियाणा में पंचायत प्रतनिधियों को दिलाई गई शपथ, जुलाना खेड़ी के सरपंच oath के बाद हुए गिरफ्तार

हरियाणा में पंचायत प्रतनिधियों को दिलाई गई शपथ, जुलाना खेड़ी के सरपंच oath के बाद हुए गिरफ्तार

चंडीगढ़: हरियाणा में आज पंचायत चुनाव जीतकर आए 70 हजार से अधिक नव निर्वाचित प्रतिनिधियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। पंच, सरपंच, जिला परिषद और ब्लॉक समिति के सदस्यों को शपथ दिलाई गई। शपथ ग्रहण समारोह में CM मनोहर लाल और ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र बबली भी वर्चुअली मौजूद रहे। 

जिला परिषद सदस्यों को डीसी ने शपथ दिलाई। ब्लॉक स्तर पर पंचायत समिति सदस्यों को कई जगह आईएएस अधिकारी एवं एचसीएस अधिकारियों ने शपथ दिलाई।  कैथल के गांव जुलानी खेड़ा के सरपंच नरेंद्र सिंह को एसडीएम ने बीडीपीओ ऑफिस में शपथ दिलाई। शपथ लेने के बाद ही पुलिस ने नरेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया। चुनाव के बाद गांव में झगड़ा होने के एक मामले में उनके खिलाफ ये कार्रवाई की गई है। 


मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने चुने हुए सदस्यों को वर्चुअली संबोधित किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी निर्वाचित सदस्यों को दी बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज का दिन लोकतंत्र का महान उत्सव है। लोकतंत्र का प्रारंभिक चरण पंचायतों से शुरू होता है। 3 फेज में ये चुनाव संपन्न हुए, जिसके बाद ग्राम स्तर तक ये शपथ ग्रहण कार्यक्रम हो रहा है। 2016 में चीन दौरे पर जब हमनें 2016 के पंचायत चुनावों का आंकड़ा शेयर किया, तो वो भी हमारे इस आकड़ों को सुनकर हैरान हुए।

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हमारे वेदों में भी पंचायतों और लोकतंत्र का जिक्र है, मेरे लिए ये ग्राम की सरकार है। 2015 में हमनें पढ़ी-लिखी और साफ छवि की पंचायतों का फैसला किया है। हमनें 50 फीसदी महिलाओं को प्रतिनिधित्व दिया। इसके साथ ही हमनें पंचायतों को वित्तीय रूप से सुदृढ़ करने का फैसला किया है। निर्विरोध निर्वाचित पंच, सरपंचों को हमनें 300 करोड़ की ईनाम राशि दी है। बिना किसी भेदभाव के सरकार काम कर रही है। इसी की तर्ज पर पंच, सरपंचों को भी काम करना है। 

शपथ ग्रहण के दौरान सीएम मनोहर लाल ने गांवों में हो रहे भ्रष्टाचार पर चिंता जताई। सीएम ने नव निर्वाचित प्रतिनिधियों से कहा कि गांवों के विकास के लिए समाज सेवकों के साथ समितियां बनाई जाएं, ताकि वह पंचायती राज कामों में मदद कर सकें। इससे ही सबका साथ-सबका विकास होगा। बहुत सी जगहों पर भ्रष्टाचार का रोग लगा हुआ है। बाद में शिकायत और मुकदमे के बजाय पहले ही काम को सही ढंग से निपटा लिया जाए तो बेहतर रहेगा।


- PTC NEWS

adv-img
  • Tags

Top News view more...

Latest News view more...