धर्म

Holi 2022: इन रंगों से खेलें होली...दूर होंगी सारी अड़चनें, राशि के अनुसार करें इन मंत्रों का जाप

By Vinod Kumar -- March 17, 2022 4:14 pm -- Updated:March 17, 2022 6:18 pm

holi 2022: बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक होली का खुमार देशभर पर चढ़ चुका है। होली से एक दिन पहले आज होलिका दहन किया गया। आज के दिन को छोटी होली के नाम से जाना जाता है। इस दिन लोग होलिका दहन करते हैं।

होली रंग, उमंग, भाईचारे का त्योहार है। ऐसे में रंगवाली होली चैत्र मास की प्रतिपदा तिथि को मनाई जाती है, जबकि इसके पहले दिन फाल्गुन मास की पूर्णिमा को होलिका दहन का पर्व मनाया जाता है। इस साल रंगवाली होली का पर्व शुक्रवार 18 मार्च 2022 को मनाया जाएगा।

कौन से रंगों से होली खेलना माना जाता है शुभ
वैसे तो होली कई रंगों से खेली जाती है। बाजार में ढेर सारे रंग मौजूद होते हैं। पर इन रंगों का अपना महत्व भी होता है। धन के लिए गुलाबी रंग से होली खेलनी चाहिए। स्वास्थ्य के लिए लाल रंग। पढ़ाई-लिखाई के लिए पीले रंग या चन्दन से होली खेलनी चाहिए। शीघ्र विवाह या वैवाहिक बाधाओं के लिए गुलाबी और हरे रंग से होली खेलें। करियर के लिए हलके नीले से रंग से होली जरूर खेलनी चाहिए।

happy choti holi

ये है होली खेलने का विधान
होली खेलने के पूर्व रंग या अबीर भगवान को समर्पित जरूर करना चाहिए। होलिका दहन से लाई गई राख़ (भस्म) से शिवलिंग का अभिषेक करना भी शुभ फल प्रदान करता है। अलग-अलग राशियों के लोगों को अलग अलग रंग से होली खेलनी चाहिए। अगर आपको अपनी राशि नहीं मालूम है तो अपनी विशेष इच्छा की पूर्ति के लिए विशेष रंग से होली खेलने का प्रयास करें।

मेष- इस राशि का स्वामी मंगल है, जो ऊर्जा का कारक है और गुस्से का भी। मेष राशि के लोग होली के पर्व के दिन गुलाबी, पीले रंगों का उपयोग करें और इस मंत्र का जाप करें। 'ॐ नमः भगवते वासुदेवाय'

वृषभ- वृषभ राशि के लोग गायत्री मंत्र का जाप करें। इस राशि का स्वामी शुक्र है व शुभ रंग सिल्वर है। लेकिन इस कलर का उपयोग ठीक नहीं रहेगा। अत: आसमानी व हल्के नीले रंगों का प्रयोग करें। इस प्रकार अपने आसपास के माहौल को खुशनुमा बनाएं।

मिथुन- मिथुन राशि के लोग 'ॐ श्री क्षीं क्लीं' मंत्र का जाप करें। इस राशि का स्वामी बुध है। इसलिए हल्के हरे रंग, गुलाबी, पीले, नारंगी, आसमानी रंग का प्रयोग कर इस त्योहार को यादगार बनाएं।

happy choti holi

कर्क- कर्क राशि के लोग 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुंडाय नमः' मंत्र का जाप करें। कर्क राशि वालों का स्वामी चन्द्रमा है। इसका रंग सफेद है। कर्क राशि वाले वैसे ही भावुक होते हैं। अत: उनके साथ होली की मस्ती सादगी से ही होना चाहिए।

सिंह- सिंह राशि के लोग हनुमान चालीसा अथवा गायत्री मंत्र का जाप करें। इस राशि का स्वामी सूर्य है व इसके रंग भी बड़े ही सुहावने हैं। सिंह राशि के लोग गुलाबी व हल्के हरे, नारंगी, पीले आदि रंगों सं होली खेलें। इन रंगों से आपका प्रभाव भी बढ़ेगा।

कन्या- इस राशि के लोग 'ॐ नमः नारायणाय' मंत्र का जाप आरंभ करें। इस राशि का स्वामी बुध है। अत: हल्के हरे रंग, गुलाबी, पीले, नारंगी, आसमानी रंग का प्रयोग कर इस त्योहार को यादगार बनाएं।

Happy-Choti-Holi-2022-3

मकर- मकर राशि के लोग 'ॐ नमः शिवाय' तथा 'ॐ नमः भगवते वासुदेवाय' का जाप करें। इस राशि का स्वामी शनि रंग आसमानी व नीले के साथ-साथ फिरोजी होता है। मकर राशि के लोग होली पर हरे रंग का प्रयोग कर सकते हैं।

कुंभ- 'ॐ गं गणपते नमः', 'ॐ ऐ ह्रीं श्री लक्ष्मीदेव्यै नमः' का जाप करें। इस राशि का स्वामी शनि है। इस राशि के लोग होली पर हरे रंग का प्रयोग करें।

मीन- सुंदरकांड का पाठ एवं हनुमान चालीसा का जाप करें। इस राशि वाले सादगी पसंद होते हैं अत: इनके साथ सलीके से होली खेलकर इनको खुश कर सकते हैं।

तुला- इस राशि के लोग 'ॐ क्लीं कृष्णाय नमः' का जाप करें। इस राशि का स्वामी शुक्र है व शुभ रंग सिल्वर है।
वृश्चिक- हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ करें। इस राशि का स्वामी मंगल है, जो ऊर्जा का कारक है। वहीं गुस्से का भी। इस होली वृश्चिक राशि के लोगों के लिए गुलाबी, पीले रंग उत्तम रहेंगे।

धनु- धनु राशि के लोग गायत्री मंत्र का जाप करें। इस राशि के लोगों का स्वामी गुरु है, जो संत प्रवृत्ति का कारक है। इसके रंग पीले, नारंगी, बैंगनी हैं और मित्र सूर्य हैं। इसका रंग गुलाबी है।

वहीं, बुराई के अच्छाई पर जीत के इस पावन पर्व होली के अवसर पर लोग एक दूसरे को सोशल मीडिया पर बधाई भी दे रहे हैं।

 

Koo App

अंतःकरण की अनियंत्रित कामनाएँ, उन्माद अहंकार व स्वच्छंद वृत्तियों के दहन के अनंतर ही सद्प्रवृत्तियों का उदय संभव है।अतिशय संग्रहवादी आदिदैत्य हिरण्यकश्यप के अहंकार पर भगवद भक्ति परायण प्रह्लाद की अटूट आस्था व विश्वास के विजय का पर्व #होलिकादहन शुभ हो! #holicelebrations #holi #होलिका_दहन #thoughtoftheday #AajKaMantra #KooForIndia #MotivationalQuotes

- Swami Avdheshanand Giri (@avdheshanandg) 17 Mar 2022

Koo App

‘‘बैठकी होली’’ रंगों के पर्व को मनाने का एक अनोखा रूप होता है। इसमें कलाकार एक जगह एकत्रित होकर उमंग व तरंग से भरे होली के पारंपरिक गीत गाते हैं। इन कलाकारों को होलीयार कहते हैं। ये लोकगीत कुमाऊंनी अथवा हिन्दी भाषा में गाए जाते हैं। #uttarakhand #Holi #FestivalOfColours #uttarakhand #kumaoni #garhwali #pahadiholi #pahadiculture #kumaoniholi #holi #festivalsofuttarakhand #baithakiholi #khadiholi

- Uttarakhand Tourism (@uttarakhand_tourismofficial) 17 Mar 2022

  • Share