कोरोना के सक्रिय मामलों में कमी, कुल सक्रिय मामलों का 80 फीसदी सिर्फ 12 राज्यों में

By Arvind Kumar - May 15, 2021 5:05 pm

नई दिल्ली। देश के अलग-अलग राज्यों में लगाई गई बंदिशों के बाद कोरोना के सक्रिय मामलों में कमी देखी जा रही है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 36,73,802 है। 3 मई को रिकवरी रेट 81.7 फीसदी थी जिसके बाद रिकवरी में सुधार हुआ है। अब रिकवरी रेट 83.83 फीसदी है। 75 फीसदी मामले 10 राज्यों से आ रहे हैं और कुल सक्रिय मामलों का 80 फीसदी सिर्फ 12 राज्यों में है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि देश में 11 राज्य ऐसे हैं जहां 1 लाख से भी ज्यादा सक्रिय मामले हैं। 8 राज्यों में 50,000 से 1 लाख के बीच सक्रिय मामलों की संख्या बनी हुई है। 17 राज्य ऐसे हैं जहां 50,000 से भी कम सक्रिय मामलों हैं। नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने कहा कि देश ने इतने बढ़े हुए सक्रिय मामलों को संभाला है, कोरोना की वजह से देश में मृत्यु दर स्थिर है।

यह भी पढ़ें: वैक्सीन की किल्लत जल्द होगी दूर

यह भी पढ़ें:अब 12-16 सप्ताह बाद लगेगी COVISHIELD वैक्सीन की दूसरी खुराक

इस बीच एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने बताया कि मधुमेह के रोगियों में फंगल इन्फेक्शन का खतरा बढ़ रहा है; स्टेरॉयड की ज़्यादा मात्रा ख़तरनाक है; यदि COVID19 से संक्रमित मधुमेह रोगी स्टेरॉयड ले रहा है, तो फंगल इन्फेक्शन की संभावना बढ़ जाती है।

कोरोना के खिलाफ में देश में वैक्सीनेशन अभियान भी जोरों पर है। भारत में अब तक कोविड-19 टीके की 18 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गईं हैं। अब तक 18 से 44 उम्र के आयु समूह में 42 लाख से ज्यादा लोगों को टीके लगाए गए हैं।

adv-img
adv-img