शिक्षा

ये कैसा परीक्षा केंद्र! ना प्रश्न पत्र...ना उत्तर पुस्तिका...रात 8 बजे तक गाड़ियों की लाइट जलाकर ली गई बोर्ड परीक्षा

By Vinod Kumar -- February 03, 2022 1:00 pm -- Updated:February 03, 2022 3:14 pm

बिहार के मोतिहारी में स्थित हरेंद्र किशोर इंटर कॉलेज में बोर्ड की परीक्षा मजाक बनकर रह गई। अभी तक सरकारी अस्पतालों में मोमबत्ती और मोबाइल की रोशनी में ऑपरशन की खबरें आती रहती थीं। अब परीक्षा भी इसी तरह की वैकल्पिक व्यवस्था में कराने का मामला सामने आया है। मोतिहारी में इंटरमीडिएट की परीक्षा गाड़ियों की लाइट जलाकर पूरी कराई गई। कुछ बच्चे मोबाइल की टॉर्च जलाकर परीक्षा देते नजर आए।

दरअसल मोतिहारी नगर से सटे महाराजा हरेंद्र किशोर कॉलेज मंगलवार को इंटर का परीक्षा केंद्र बनाया गया था। इस केंद्र में मंगलवार को दूसरी पाली में हिंदी की परीक्षा होनी थी, लेकिन कॉपी और प्रश्नपत्र परीक्षा केंद्रतक नहीं पहुंच पाए थे. इसे लेकर परीक्षार्थियों और अभिभावकों ने जब हंगामा किया तो किसी तरह प्रश्नपत्र और कॉपी सेंटर पर पहुंचाया गया। डेढ़ बजे की जगह परीक्षा 4 बजे के बाद शुरू हुई। परीक्षा देते ही अंधेरा छाने लगा। कॉलेज में लाइट की व्यवस्था ना होने पर प्रशासन के हाथ पांव फूल गए।

 

अंधेरा छाते ही प्रशासन को होश आया। 900 छात्रों के लिए जेनरेटर की व्यवस्था की गई, लेकिन इंतजाम नाकाफी सिद्ध हुए। इसके बाद छात्रों को बरामदे में बिठाया गया। इसके बाद पुलिस और अधिकारियों की गाड़ियों से लाइट जलाकर बच्चों की परीक्षा दिलाई गई।

इस मामले में जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने कहा कि सीटिंग अरेंजमेंट में गड़बड़ी के कारण डेढ़ घंटा विलंब से परीक्षा शुरू हुई थी, मोतिहारी के डीईओ को मामले की जांच कर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया है, इसके साथ ही सेंटर सुपरिटेंडेंट को निलंबित करने का आदेश दे दिया गया है।

 

  • Share