जेजेपी का जन सेवा पत्र रिलीज, पुरानी पेंशन बहाली का वादा (VIDEO)

JJP Manifesto
जेजेपी का जन सेवा पत्र रिलीज, पुरानी पेंशन बहाली का वादा

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए जेजेपी ने भी अपना मेनिफेस्टो जारी कर दिया है। जेजेपी ने इसे ‘जन सेवा पत्र’ नाम दिया है। वीरवार को जेजेपी नेता डॉ. केसी बांगड़ ने चंडीगढ़ में पार्टी कार्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान मेनिफेस्टो रिलीज किया और इसके मुख्य बिंदुओं के बारे में बताया।

JJP Manifesto
जेजेपी का जन सेवा पत्र रिलीज, पुरानी पेंशन बहाली का वादा

‘जन सेवा पत्र’ के मुख्य बिंदु

– हरियाणा की सभी नौकरियों में 75 प्रतिशत हरियाणवियों के लिए आरक्षित
– फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 10 प्रतिशत या 100 रुपये बोनस दिया जाएगा
– गांवों में शराब के ठेके बंद करवाए जाएंगे
– ग्रामीण बच्चों को नौकरी की परीक्षाओं में 10 अंक अतिरिक्त दिए जाएंगे
– कर्मचारियों के लिए पुरानी पेन्शन बहाल की जाएगी
– हर गांव में RO का शुद्ध पानी उपलब्ध करवाया जाएगा
– कुरुक्षेत्र में संत रविदास का देश का सबसे बड़ा भव्य मंदिर बनाया जाएगा।
– मोटर व्हीकल एक्ट में बदलाव कर चालान की दरों को कम किया जाएगा
– नौकरी के लिए परीक्षाएं गृह जिले में ही होंगी और सालाना फीस सिर्फ 100 रुपये होगी
– काला पीलिया, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का मुफ्त इलाज होगा
– निगम, बोर्ड के चेयरमैन, सदस्य, OSD, VC, रजिस्ट्रार आदि हरियाणा निवासी ही बनाए जाएंगे
– गांवों और शहरों में कोचिंग सैंटर और महानगरों में छात्रों के लिए हरियाणा हॉस्टल बनाए जाएंगे
– किसानों को स्वरोजगार के लिए जमीन का CLU निशुल्क दिया जाएगा
– नवोदय विद्यालय की तर्ज पर किसान मॉडल स्कूल खोले जाएंगे
– जींद में शहीद भगत सिंह की देश की सबसे बड़ी प्रतिमा लगाई जाएगी
– एससी कमीशन, पिछड़ा वर्ग कल्याण बोर्ड का गठन किया जाएगा
– पत्रकारों को सभी शहरों में चैम्बर, मुफ्त इलाज, सस्ते मकान दिए जाएंगे
– निजी स्कूलों की फीस बढ़ोतरी पर नियंत्रण किया जाएगा
– सेक्टरों में प्लॉट पर एनहांसमेंट का बोझ मकान मालिक पर नहीं डाला जाएगा
– लड़कियों के लिए ‘पहली से पीएचडी’ तक शिक्षा मुफ्त होगी
– दिव्यांगों, गरीबों, एससी वर्ग व अन्य जरूरतमंद लोगों को 3 लाख रुपये का ब्याज मुक्त बिना गारंटी लोग
– बुजुर्गों, विधवा, विकलांग पेन्शन 5100 रुपये महीना होगी, महिलाओं को 55, पुरुषों को 58 साल से मिलेगी
– गृहणी माताओं को बच्चों के पोषण और लालन-पालन के लिए 3000 रुपये तक मासिक मानदेय देंगे
– सरपंचों को 8000, पंचों को 3000, पंचायत समिति सदस्यों को 4000 और जिला पार्षद को 10000, नंबरदार को      5000 रुपये मासिक भत्ता देंगे
– किसानों, छोटे दुकानदारों का सहकारी बैंकों का कर्ज माफ होगा और जमीन की नीलामी बंद होगी
– नौकरी मिलने तक शिक्षित युवाओं को 11000 रुपये बेरोजगारी भत्ता देंगे
– न्यूनतम वेतन 16 हजार रुपये और दिहाड़ी 600 रुपये की जाएगी
– सरकारी कर्मचारियों को HRA 1 जनवरी 2017 से दिया जाएगा

यह भी पढ़ेंविस चुनाव: 117 प्रत्याशियों पर दर्ज हैं आपराधिक मामले, सबसे ज्यादा कांग्रेस के

—PTC NEWS—