कानून व्यवस्था

47 वें CJI बने शरद अरविंद बोबडे, राष्ट्रपति ने दिलाई शपथ

By Arvind Kumar -- November 18, 2019 12:11 pm -- Updated:Feb 15, 2021

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठतम न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे देश के 47वें मुख्य न्यायाधीश बन गए हैं। उन्होंने सोमवार को देश के 47वें मुख्य न्यायाधीश के पद की शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में न्यायमूर्ति बोबडे को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। न्यायमूर्ति बोबडे ने न्यायमूर्ति रंजन गोगोई का स्थान लिया, जिनका कार्यकाल कल पूरा हो गया था। न्यायमूर्ति बोबडे 17 महीने तक उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश पद पर रहेंगे और 23 अप्रैल 2021 को सेवानिवृत्त होंगे।

CJI 3 (1) 47 वें CJI बने शरद अरविंद बोबडे, राष्ट्रपति भवन में हुआ शपथ ग्रहण समारोह

आपको बता दें कि इस शपथ ग्रहण समारोह में उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्री मोदी, पूर्व उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के अलावा मौजूदा मंत्रिपरिषद के ज्यादातर सदस्य, उच्चतम न्याायालय और दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश, कई पूर्व मंत्री एवं सांसद उपस्थित थे।

CJI 2 (1) 47 वें CJI बने शरद अरविंद बोबडे, राष्ट्रपति भवन में हुआ शपथ ग्रहण समारोह

न्यायमूर्ति बोबडे महाराष्ट्र के वकील परिवार से आते हैं। उनके पिता अरविंद श्रीनिवास बोबडे भी मशहूर वकील थे। उन्होंने कई ऐतिहासिक फैसलों में अहम भूमिका निभाई है। हाल ही में अयोध्या विवाद पर ऐतिहासिक फैसला देने वाली संविधान पीठ के भी वह सदस्य रहे हैं। वह निजता के मौलिक अधिकार को लेकर अगस्त 2017 में फैसला देने वाली नौ सदस्यीय संविधान पीठ के सदस्य भी रहे हैं। उस पीठ की अध्यक्षता तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश जे एस खेहर ने की थी।

यह भी पढ़ेंसंसद का शीतकालीन सत्र, हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार सरकार

---PTC NEWS---