किसान आंदोलन: कई जिलों में लगाई धारा 144, RAF की पांच कंपनियां बुलाई गईं

Farmer Protest
किसान आंदोलन: कई जिलों में लगाई धारा 144, RAF की पांच कंपनियां बुलाई गईं

चंडीगढ़। किसानों की दिल्ली कूच के चलते हरियाणा सरकार ने कई कड़े कदम उठाए हैं। सरकार ने जहां किसान नेताओं को हिरासत में लेकर बॉर्डर सील कर दिए हैं। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए भारी पुलिसबल की तैनाती की है।

Farmer Protest
किसान आंदोलन: कई जिलों में लगाई धारा 144, RAF की पांच कंपनियां बुलाई गईं

कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए आरएएफ की पांच कंपनियां बुलाई गई हैं। कई जिलों में धारा 144 लागू की गई है। वहीं RAF के साथ पुलिस की 14 अतिरिक्त कंपनियां भी तैनात की गई हैं। पुलिस का मुख्य फोकस किसानों को पंजाब से आने व दिल्ली जाने से रोकने पर होगा।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी बोले- सब तक पहुंचेगी वैक्सीन, डिस्ट्रीब्युशन पर अभी से काम शुरू कर दें राज्य

1:- पंजाब से लगते हरियाणा के बॉर्डर पर सख्ती

अंबाला में पंजाब के दोनों बॉर्डर जीटी रोड पर देवीगढ़ में चंडीगढ़ रोड पर सीमेंटिड बैरियर लगाकर पूरी तरह से सील रहेंगे।
2:- जींद में पंजाब बॉर्डर सील, नाकेबंदी की गई

जींद से पंजाब जाने को सभी मार्ग सील कर दिए हैं। दाता सिंह वाला बॉर्डर पर थ्री लेयर बैरिकेडिंग कर धारा 144 लगा दी है। जींद जिले में 30 नाके लगाए गए हैं।

Farmer Protest
किसान आंदोलन: कई जिलों में लगाई धारा 144, RAF की पांच कंपनियां बुलाई गईं

यह भी पढ़ें- हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, दो दिन के लिए बॉर्डर किए सील

3:- सोनीपत में कुंडली बॉर्डर पर नाके

सोनीपत में किसानों की राई एजुकेशन सिटी में इकट्ठा होने का पॉइंट है। जीटी रोड पर फोर्स बढ़ा दी है। हाल्दाना चौकी व कुंडली बॉर्डर पर नाकेबंदी की गई है।
 4:- रोहतक में दिल्ली के रास्तों पर फोर्स

रोहतक में 18 जगह नाकेबंदी है। दिल्ली जाने वाले रास्ते पर पुलिस तैनात है। झज्जर जिले में 19 जगह स्पेशल नाकेबंदी की है, यहां भी धारा 144 लागू है।

Farmer Protest
किसान आंदोलन: कई जिलों में लगाई धारा 144, RAF की पांच कंपनियां बुलाई गईं

5:- नेशनल हाईवे पर फोकस

किसान संगठनों के मुख्य फोकस में हरियाणा से दिल्ली जाने वाले चार प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग रहेंगे। इनमें अंबाला- दिल्ली, हिसार -दिल्ली, रेवाड़ी- दिल्ली, पलवल- दिल्ली हाईवे होंगे।

अंबाला के शंभू बॉर्डर, भिवानी के गांव मुंढाल चौक, करनाल में घरोंडा मंडी, बहादुरगढ़ में टिकरी बॉर्डर व सोनीपत में एजुकेशन सिटी राय में किसानों के एकत्रित होने की संभावना है।