ये है सरकारी बाबुओं का हाल! औचक निरीक्षण में हुए चौंकाने वाले खुलासे

Many employees found absent while SDM surprise inspection
ये है सरकारी बाबुओं का हाल! औचक निरीक्षण में हुए चौंकाने वाले खुलासे

बहादुरगढ़ (प्रदीप धनखड़)। बहादुरगढ़ के सरकारी कार्यालयों में तैनात अधिकारी और कर्मचारी अपने काम को लेकर बिल्कुल भी संजीदा नहीं है! ना तो अधिकारी समय पर कार्यालय पहुंचते हैं और ना ही लोगों की समस्याएं निपटाने के लिए जवाबदेह हैं! इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब बहादुरगढ़ के एसडीएम द्वारा सरकारी कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया।

Many employees found absent while SDM surprise inspection
ये है सरकारी बाबुओं का हाल! औचक निरीक्षण में हुए चौंकाने वाले खुलासे

बहादुरगढ़ के एसडीएम तरुण पावरिया ने आज बहादुरगढ़ नगर परिषद, जल आपूर्ति विभाग, खाद्य आपूर्ति विभाग, नागरिक अस्पताल आदि का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कई विभागों में अधिकारी और कर्मचारी नदारद मिले। जिनकी गैरहाजरी एसडीएम साहब ने स्वयं लगाई और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात भी कही।

Many employees found absent while SDM surprise inspection
ये है सरकारी बाबुओं का हाल! औचक निरीक्षण में हुए चौंकाने वाले खुलासे

दरअसल पिछले लंबे समय से बहादुरगढ़ के लोगों को सरकारी कार्यालयों में काम करवाने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ रही थी। कभी अधिकारी लोगों को कार्यालय में नहीं मिलते और कभी हेड ऑफिस में मीटिंग का बहाना बनाकर काम को टाल देते। इसकी शिकायत लोग कई बार एसडीएम साहब से कर चुके थे। जिसके चलते एसडीएम तरुण पावरिया ने आज बहादुरगढ़ के विभिन्न सरकारी कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया।

Many employees found absent while SDM surprise inspection
ये है सरकारी बाबुओं का हाल! औचक निरीक्षण में हुए चौंकाने वाले खुलासे

जल आपूर्ति विभाग के एक्सईएन और फूड एंड सप्लाई विभाग में सब इंस्पेक्टर गैरहाजिर मिले हैं। इतना ही नहीं जल आपूर्ति विभाग के एक्सईएन कार्यालय पर तो ताला जड़ा हुआ मिला। वहीं फूड एंड सप्लाई विभाग की सब इंस्पेक्टर अनीता पिछले 3 दिसंबर से लगातार गैरहाजिर चल रही हैं। इसके बाद एसडीएम साहब बहादुरगढ़ के नागरिक अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने ओपीडी व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान भी सामान्य अस्पताल में 2 डॉक्टर गैर हाजिर मिले। एसडीएम तरुण ने गैरहाजिर मिले सभी कर्मचारियों की हाजिरी रजिस्टर में अनुपस्थिति दर्ज की और गैरहाजिर अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही।

यह भी पढ़ेंहरियाणा में 25 दिसंबर को मनाया जाएगा सुशासन दिवस

अक्सर देखने में आता है कि सरकारी कार्यालय में तैनात अधिकारी ना तो समय से कार्यालय पहुंचते हैं और ना ही आमजन की समस्याओं को दूर करने के प्रति समर्पित है। ऐसे में अब देखना यह होगा कि एसडीएम साहब के औचक निरीक्षण को सरकारी कार्यालय में तैनात अफसर और सरकारी बाबू इसे कितनी संजीदगी के साथ लेते हैं और उन पर कोई कार्रवाई होती भी है या नहीं?

—PTC News—