Sat, Jan 28, 2023
Whatsapp

मारकंडा नदी में जलस्तर बढ़ने से शाहबाद में कई गांव पानी में डूबे, किसानों की फसलें बर्बाद

Written by  Vinod Kumar -- September 29th 2022 12:03 PM -- Updated: September 29th 2022 12:04 PM
मारकंडा नदी में जलस्तर बढ़ने से शाहबाद में कई गांव पानी में डूबे, किसानों की फसलें बर्बाद

मारकंडा नदी में जलस्तर बढ़ने से शाहबाद में कई गांव पानी में डूबे, किसानों की फसलें बर्बाद

कुरुक्षेत्र/अशोक यादव: शाहबाद उपमण्डल में मारकण्डा नदी के उफान पर आने के कारण आसपास के आधा दर्जन गांव पानी में डूब गए हैं। पानी के कारण ग्रामीणों की धान की फसल खेत, खलिहान जूब चुके हैं। किसानों की अधिकतर फसलें बर्बाद हो गई है।


इसके साथ कई घरों, गोशालाओं में पानी घुस गया है। रास्ते, सड़कें सब जलमग्न हो गए हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि उनकी फसलें बर्बाद हो गई है। रोजी रोटी का संकट उनके सामने खड़ा हो गया है। फसलों के डूबने से किसानों को भारी नुकसान हुआ है। उनकी सारी मेहनत पानी में बह गई।

ग्रामीणों का कहना है कि कठुआ,गुमटी,तंगौर,तंगौरी, झरौली खुर्द,मुगल माजरा, कलसाना, मलकपुर,मोहनपुर गांवों में किसानों की हजारों एकड़ फसल नदी के पानी से खराब हो गई है। कठुआ गांव का आसपास के गांवों से संपर्क टूट गया है। सड़क पर लगभग 3 फिट पानी जमा है।

जलभराव के बाद किसानों ने कहा कि ये समस्या लंबे समय से बनी हुई है, लेकिन किसी अधिकारी या नेता ने उनकी आज तक सुध नहीं ली है। प्रशासन और सरकार का कोई भी नुमाइंदा गांव में हाल चाल जानने के लिए नही आया है। किसानों ने मांग की है कि उनकी खराब हुई फसलों का उन्हें उचित मुआवजा मिलना चाहिए।

Top News view more...

Latest News view more...