मिल्खा सिंह का एक सपना रह गया अधूरा

नई दिल्ली। फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह तो अब इस दुनिया को छोड़कर चले गए हैं लेकिन उनका एक सपना था जो उनका जिंदा रहते पूरा नहीं हो पाया। दरअसल मिल्खा सिंह चाहते थे कि उनके जीते-जीते ओलंपिक में एथलीट मेडल लाएं। लेकिन ये सपना उनका पूरा नहीं हो पाया।

इस बीच केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने उनके इस सपने को पूरा करने की बात कही है। उन्होंने कहा, “मैं वादा करता हूं उनका ये सपना हम जल्द पूरा करेंगे।”

उन्होंने बताया कि वे खेल मंत्रालय की तरफ से एक शोक संदेश लेकर चंडीगढ़ जा रहे हैं। मिल्खा सिंह जी एक खिलाड़ी ही नहीं बल्कि देश के हर युवाओं के लिए मिसाल थे। उनकी पत्नी की मृत्यु भी कुछ दिन पहले हुई थी, वो भी बहुत बड़ी खिलाड़ी थी। उन दोनों की मृत्यु देश के लिए बड़ा नुकसान है।

यह भी पढ़ें- मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने की 1100 करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा

यह भी पढ़ें- सीबीएसई 12वीं बोर्ड के 31 जुलाई तक घोषित होंगे नतीजे

बता दें कि मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात निधन हो गया था। उनका कई दिनों से पीजीआई चंडीगढ़ में इलाज चल रहा था। पिछले दिनों मिल्खा सिंह कोरोना से संक्रमित हुए थे लेकिन पोस्ट कोविड कंपलिकेशन के कारण उनकी तबीयत बिगड़ गई और शुक्रवार देर रात उन्होंने अंतिम सांस ली।