राजनीति

अब फसल बीमा लेने के लिए किसान बाध्य नहीं, सरकार ने योजना को किया स्वैच्छिक

By Arvind Kumar -- July 25, 2020 5:07 pm -- Updated:Feb 15, 2021

भिवानी। कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि अब फसल बीमा लेने के लिए किसान बाध्य नहीं है, बल्कि किसान की इच्छा पर निर्भर रहेगा कि वह अपनी फसल का बीमा करवाए या नहीं। हालांकि उन्होंने किसानों से अपील की कि फसल बीमा योजना किसानों के लिए लाभकारी है। किसान इस योजना का फायदा अधिक से अधिक उठाएं।

कृषि मंत्री ने कहा कि पशुपालन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हरियाणा सरकार अगले 50 दिनों में दो लाख नए पशुधन क्रेडिट कार्ड बनाएगी। जिसके तहत पशुपालकों को एक लाख 60 हजार रूपये चार प्रतिशत ब्याज दर पर बगैर जमीन गिरवी रखे ब्याज पर मिल सकेंगे। जो पशुपालकों को पशुधन बढ़ाने में प्रयोग हो सकेंगे। यह बात हरियाणा के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जयप्रकाश दलाल ने भिवानी के चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय में विश्वविद्यालय के 7वें स्थापना दिवस पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। इस मौके पर पशुपालन मंत्री ने विश्वविद्यालय में आयोजित रक्तदान शिविर व रोजगारपरक शिक्षा पर आयोजित कार्यक्रम में भी शिरकत की।

Minister of Agriculture JP Dalal on crop insurance scheme

कृषि एवं पशुपालन मंत्री जयप्रकाश दलाल ने इस मौके पर कहा कि हरियाणा के पशुपालन विभाग ने कोविड महामारी के दौर में रिकॉर्ड प्रदेश के 50 लाख पालतू पशुओं का मुंहखोर व गलघोटू बीमारी का टीके लगाकर वैक्सीनेशन करने का काम किया है, जबकि पूरे देश में मात्र डेढ़ करोड़ पशुओं का ही वैक्सीनेशन हो पाया है। इस प्रकार हरियाणा सरकार ने पशुपालन के महत्व को समझते हुए दो लाख नए पशुधन क्रेडिट कार्ड 50 दिनों में बनाने का निर्णय लिया है। कृषि मंत्री ने स्वरोजगार अपनाने की भी की।

उन्होंने मछली पालन, मशरूम उत्पादन, दुग्ध उत्पादन व बागवानी को अपनाने की युवाओं से अपील की तथा कहा कि उनके विभाग से जुड़ी इन योजनाओं को अपनाने पर विभाग के अधिकारी ही बैंक संबंधी कार्यो को किसनों के घर जाकर खुद पूरा करेंगे। योजना के लाभार्थियों को बैंकों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

Minister of Agriculture JP Dalal on crop insurance scheme

इस मौके पर कृषि मंत्री ने चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय में बताया कि आज शिक्षा को रोजगार से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। देश में प्रतिभा की कमी नहीं है। आज अमेरिका के बेहतरीन डॉक्टर भारतीय है तथा नासा जैसे अंतर्राष्ट्रीय संस्थान में 25 से 30 प्रतिशत वैज्ञानिक भारतीय है। ऐसे में देश के विश्वविद्यालयों को चाहिए कि वे रिसर्च वर्क को बढ़ावा दे तथा रोजगार परक शिक्षा के नए कोर्स विश्वविद्यालय स्तर पर शुरू किए जाएं। उन्होंने चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय द्वारा शुरू किए गए पांच नए कोर्सो की सराहना भी की।

---PTC NEWS---