मॉब लिंचिंग का सबसे भयावह चेहरा, पुलिस के सामने युवक को हथौड़े से पीटा

Mob lynching in Gurugram | Accused Attacked With Hammer

गुरुग्राम। (नीरज वशिष्ठ) साइबर सिटी में हुई मॉब लिंचिंग में विचलित कर देने वाला वीडियो सामने आया है। जिसमें आधा दर्जन गौ रक्षक पिकअप के ड्राइवर लुकमान को हथौड़े से पीटते नज़र आ रहे हैं। ड्राइवर लुकमान चीखता रहा चिल्लाता रहा लेकिन गौ रक्षकों के भेष में इन बदमाशों ने लुलमान की एक न सुनी और मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों के सामने ही बेरहमी से पीटते रहे।

वायरल वीडियो कल सुबह सदर बाजार इलाके की मस्जिद के पास मीट मार्किट का है। जहां मेवात घासेड़ा का रहने वाला पिकअप ड्राइवर लुकमान हर रोज की भांति भैंस का मांस लेकर मीट मार्किट में पहुंचा था लेकिन बादशाहपुर इलाके से बाइक सवार बादमशों ने लुकमान को जबरन रोकने की कोशिश शुरू कर दी। वायरल वीडियो जहां विचलित कर रहा है तो वहीं इंसानियत को भी शर्मसार कर रहा है कि कैसे बिना सटीक जानकारी के धर्म के ठेकेदार बने गौ रक्षकों के भेष में यह बदमाश बेख़ौफ़ हो वारदात को अंजाम देने में लगे हैं।

वहीं इस मामले में एसीपी क्राइम की माने तो मॉब लिंचिंग की इस शर्मनाक वारदात में एक आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार किया है जो कि राजीव नगर इलाके का रहने वाला है और इस वारदात में बाकी बचे आरोपियों की पहचान की कोशिशें भी की जा रही हैं।

Mob lynching in Gurugram | Accused Attacked With Hammer

हालांकि पुलिस की एफआईआर में दर्ज धाराओं में भी बड़े झोल हैं जबकि पीड़ित पक्ष की ओर से यह बार-बार कहा गया कि गौ रक्षक पिकअप ड्राइवर को जबरन गाड़ी में डाल यानी उसका अपहरण कर बादशाहपुर ले गए और वहां भी पुलिस की मौजूदगी में पिकअप ड्राइवर को मारने पर आमादा थे लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने मामले में लीपापोती करते हुए इस संवेदनशील मामले में अपहरण की धारा तक दर्ज नहीं की जिससे पुलिस की कार्यशली पर भी गंभीर सवाल खड़े होने लगे हैं

वहीं इस पूरी वारदात में जहां गौ रक्षक बार बार पिकअप गाड़ी में गौ मांस होने के आरोप लगा रहे थे तो पुलिस ने भी इस पूरे मामले में कहीं नहीं माना है या दर्ज किया है कि पिकअप गाड़ी में गौ मांस था। बहरहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है।

—PTC NEWS—