मोस्टवॉन्टेड पैरोल जम्पर अपराधी अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार

Arrest 1
मोस्टवॉन्टेड पैरोल जम्पर अपराधी अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार

चंडीगढ़। हरियाणा पुलिस द्वारा जिला झज्जर में गुप्त सूचना पर कारवाई करते हुऐ हत्या के मामले में अदालत द्वारा दोषी ठहराए गये एक अति वांछित पैरोल जम्पर अपराधी को उसके एक साथी सहित अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि दोनों को विशेष नाइट डोमिनेशन अभियान के तहत सीआईए की टीम ने काबू किया है। पकड़े गए बदमाशों में एक अतिवांछित अपराधी जनवरी 2019 से पैरोल पर जेल से बाहर आकर फरार चल रहा था। बदमाशों के कब्जे से 315 व 32 बोर के दो देशी पिस्तौल तथा 5 जिंदा कारतूस सहित एक मोटरसाइकिल बरामद हुए।

Arrest
मोस्टवॉन्टेड पैरोल जम्पर अपराधी अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार

गुप्त सूचना के आधार पर बाइक सहित पकड़े गए युवकों ने पूछताछ में अपने नाम अमित उर्फ पंडित निवासी गांव खरहर हाल शंकर गार्डन लाइनपार बहादुरगढ़ तथा रवि उर्फ पुजारी निवासी गांव छारा हाल न्यू पटेल पार्क लाइनपार बहादुरगढ़ बतलाए। पकड़े गए युवकों में एक अमित उर्फ पंडित जोकि हत्या के मामले में अदालत द्वारा दोषी ठहराया गया अपराधी है। जिसे उम्र कैद की सजा हुई थी। वह जनवरी 2019 में झज्जर जेल से पैरोल की छुट्टी लेकर बाहर आया था। छुट्टी पूरी होने के बाद वह वापस जेल में ना जाकर फरार हो गया था।

haryana police
मोस्टवॉन्टेड पैरोल जम्पर अपराधी अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार

अमित ने वर्ष 2014 में अपनी पत्नी की हत्या करने की वारदात को अंजाम दिया था। हत्या के उपरोक्त मामले में अमित को दोषी ठहराते हुए अदालत ने वर्ष 2015 में उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 16 जनवरी 2019 को वह झज्जर की दुलीना जेल से 21 दिन की पैरोल पर बाहर आया था। झगड़े के विवाद की रंजिश को लेकर उसने रेनू निवासी लाइनपार बहादुरगढ़ की हत्या करने के कई प्रयास किए थे। पैरोल पर जेल से बाहर आकर उसने अपने साथी रवि उर्फ पुजारी व अन्य के साथ मिलकर योजना बनाकर 19 मार्च 2019 को थाना लाइनपार क्षेत्र के बराही रोड पर स्थित शराब ठेका के पास रेनू पुत्र प्रेम सिंह निवासी लाइनपार बहादुरगढ़ की गोलियां मारकर हत्या करने की वारदात को अंजाम दिया था।

यह भी पढ़ें : पेट्रोल पंप पर डेबिट व क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने वाले सावधान!

योजना के तहत हत्या की उपरोक्त वारदात से करीब दस दिन पहले ही उसने मुंडका दिल्ली के एरिया से एक मोटरसाइकिल चोरी की थी। चोरी शुदा उसी मोटरसाइकिल का इस्तेमाल करते हुए दोषी ने अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या की उपरोक्त वारदात को अंजाम दिया था। हत्या के उपरोक्त मामले में अमित के साथ-साथ रवि उर्फ पुजारी भी वांछित आरोपी था। जिसे पकड़ने के लिए पुलिस द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे थे। वांछित पैरोल जम्पर अपराधी अमित ने प्राथमिक पूछताछ में पैरोल से फरारी के दौरान अनेक आपराधिक वारदात करने का खुलासा किया।

पुलिस ने दोनों को अदालत में पेश किया गया। जहां से दोनों को पूछताछ के लिए 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। रिमांड के दौरान पूछताछ में हत्या की उपरोक्त वारदात व अन्य आपराधिक वारदातों में उनके साथ और कौन-कौन दोषी शामिल थे, के संबंध में खुलासा होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें : सामान की आपूर्ति किए बिना ही फर्जी चालान जारी करने वाला गिरफ्तार

—PTC NEWS—

पंजाब-हरियाणा व देश दुनिया की खबरें देखने के लिए सब्सक्राइब करें हमारा यू ट्यूब चैनल