प्याज ने फिर शुरू किया रुलाना, पहुंचा 80 के पार

Onion

गुरुग्राम। नवरात्रि से पहले बढे प्याज के दाम अब तक कम नहीं हो सके हैं, निम्नवर्गीय और मध्यमवर्गीय परिवार इस बात से खासेचिंतित नजर आ रहे हैं क्योंकि उनका कहना है प्याज़ और टमाटर के बढ़ते भाव ने उनके घर का बजट बिगाड़ है, इस समय प्याज़ 80 रुपये किलो तक में मिल रहा है तो वही टमाटर ने भी अपना रंग दिखाते हुए 50 से 60 रुपये किलो के पायदान को छू लिया है। दुकानदारों का कहना है कि मंडी में प्याज़ की आवक में सुधार नहीं होने के कारण प्याज़ और टमाटर के दामों में बढ़ोतरी हो रही है आने वाले 4 से 5 दिनों में इनके दामों में कमी आने के आसार है। दूसरी तरफ प्रमुख टमाटर उत्पादक राज्यों में हुई भारी बारिश की वजह से आपूर्ति बाधित हुई और टमाटर की कीमतों में तेजी आई है, इसमें भी अब धीरे धीरे सुधार आने लगा है।

Mandi
प्याज ने फिर शुरू किया रुलाना, पहुंचा 80 के पार

 

सिंतबर महीने में प्याज़ के रेट 80 रुपये किलो तक पहुँच गए थे लेकिन चुनावों के दौरान इनके दामों में गिरावट आई, फिर इसके प्याज़ के दाम 50 रुपये प्रति किलो तक पहुँच गए थे। अब फिर एक बार प्याज़ के दाम 80 रूपये किलो तक पहुँच गए हैं। आढतियों का कहना है कि शहर की खांडसा मंडी में राजस्थान, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र आदि जगहों से प्याज़ पहुँच रहा है बारिश के सीजन से पहले तक मंडी में करीब 40 ट्रक प्याज पहुंचता था और एक ट्रक में 50 किलो के करीब 250 से 300 बोरे होते हैं। बारिश में फसल खराब होने के कारण आवक कम हुई, जिसमें सुधार नहीं हो पाया है। फिलहाल रोजाना करीब 8-10 ट्रक प्याज मंडी में पहुंच रहा है।दूसरी ओर दिवाली से कुछ दिन पहले से टमाटर के दाम भी प्याज की तर्ज पर बढ़ने लगे है। पहले जो टमाटर 20 से 30 रुपये किलो तक मिल रहा था वह 50 से 60 रुपये किलो तक में मिल रहा है। वही आढतियों ने उम्मीद जताई है कि आने वाले समय में महाराष्ट्र और राजस्थान से नई फसल की प्याज़ मंडी में आना शुरू हो जाएगी जिसके बाद प्याज़ के दामों में कमी आ जाएगी क्योंकि अब मौसम में बदलाव आया है तो दामों में भी जल्दी कमी आ जाएगी

यह भी पड़ें :यमुना में खुदाई के दौरान ‘प्रकट’ हुए ‘भगवान’! 

—PTCNews—