फीस माफी के लिए अभिभावक धरने पर, सुप्रीम कोर्ट में भी दाखिल की याचिका

Parents protest for School fee waiver (2)

बहादुरगढ़। (प्रदीप धनखड़) कोरोना संक्रमण के दौर में स्कूलों पर फीस माफी का दबाव बढ़ता जा रहा है। बहादुरगढ़ में तो अभिभावक संघ ने फीस माफी के लिए सांकेतिक धरना और उपवास भी किया है। बुधवार को शहीद स्मारक के बाहर अभिभावक संघ के सदस्यों ने धरना प्रर्दशन किया।

बहादुरगढ़ के नीरज गौतम ने सुप्रीम कोर्ट में फीस माफी के लिए याचिका भी दायर कर रखी है जिस पर 14 सितम्बर को सुनवाई तय हुई है। अभिभावकों ने धरना स्थल पर निजी स्कूलों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। अभिभावकों की मांग है कि नो स्कूल, नो फीस। जब तक स्कूल नहीं खुल जाते तब तक फीस नहीं ली जानी चाहिए।

Parents protest for School fee waiver (2)

अभिभावक संघ के सदस्यों ने बताया कि ऑनलाईन क्लासेज के नाम पर स्कूल अभिभावकों पर फीस देने के लिए दबाव बना रहे हैं। गरीब अभिभावकों को ऑनलाईन क्लास के लिए मोबाईल फोन और लैपटॉप खरीदना पड़ रहा है जिसके कारण उन्हे आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है।

अभिभावकों के मुताबिक कोरोना के कारण लोगों का रोजगार चला गया है। बहुत सारे वेतनभोगियों की तनख्वाह भी कम हो गई है। ऐसे दौर में स्कूलों को भी अभिभावकों को फीस में राहत देनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाने वाले नीरज का कहना है कि ऑनलाईन क्लास भी जून के बाद ही शुरू हुई है, ऐसे में अप्रैल मई और जून माह की ट्यूशन फीस पूरी तरह से माफ होनी ही चाहिए ।

—PTC NEWS—