एग्री लीडरशिप समिट में पहुंचे राष्ट्रपति, किसानों को बांटे पुरस्कार

President Ramnath Kovind
एग्री लीडरशिप समिट में पहुंचे राष्ट्रपति, किसानों को बांटे पुरस्कार

सोनीपत। गन्नौर में आयोजित एग्री लीडरशिप समिट (Agri Leadership Summit) के आखिरी दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शिरकत की। इस समिट में राष्ट्रपति ने हरियाणा कृषि विश्विद्यालय हिसार को किसान रत्न अवार्ड से सम्मानित किया। इस पुरस्कार के साथ ही 5 लाख की राशि और प्रशंसा पत्र भी दिया गया। आपको बता दें कि हरियाणा किसान रत्न पुरस्कार पहली बार आरम्भ हुआ है। इसके तहत पांच लाख व प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। यह पुरस्कार चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के वाइस चान्सलर डॉ. केपी सिंह ने राष्ट्रपति से प्राप्त किया।

President
राष्ट्रपति ने कई किसानों को कृषि रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया है।

राष्ट्रपति ने किसानों को कृषि रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया है। सभी किसानों को एक लाख रुपए तथा प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इन किसानों को प्रदान किए हरियाणा कृषि रत्न पुरस्कार।

1. मांगे राम, जिला यमुनानगर
2. नीतू,जिला महेंद्रगढ़
3. भूपेंद्र, जिला रेवाड़ी
4. डॉ शिवदर्शन मलिक, जिला रोहतक
5. रविन्द्र, जिला पानीपत
6. शिव शंकर, जिला हिसार
7. सतीश, जिला गुरुग्राम
8. धर्मपाल, जिला रोहतक
9. दिनेश, जिला सोनीपत….

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्य के किसानों के नाम संबोधन में कहा कि हरियाणा में बहुत परिवार ऐसे हैं जिनका एक बेटा जवान व दूसरा किसान है। सही मायने में जय जवान जय किसान की अवधारणा हरियाणा में ही चरितार्थ होती है।

President
सही मायने में जय जवान जय किसान की अवधारणा हरियाणा में ही चरितार्थ होती है : राष्ट्रपति

वहीं राष्ट्रपति ने इस दौरान कहा कि पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए कायरतापूर्ण हमले की निंदा की। उन्होंने कहा कि शहीदों के परिवार के साथ पूरा देश शोक संतप्त है। राष्ट्रपति ने आगे कहा कि अनेक चुनौतियों का सामना करते हुए फिर से बड़े उत्साह के साथ आगे बढ़ते जाएंगे।

यह भी पढ़ेंहास्य कवि जैमिनी हरियाणवी का निधन, आज शाम होगी रस्म पगड़ी