नूह में धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने व दबाव बनाने का मामला आया सामने, 14 लोगों पर FIR

Provocation and pressure for conversion in Nuh, Police register FIR

नूह। नूह जिले के रिठ्ठ गांव में एक व्यक्ति को जबरन धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने तथा दबाव बनाने का मामला सामने आया है। पिनगवां पुलिस ने पीड़ित पक्ष की शिकायत पर जिला पार्षद मुमताज सहित 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक रिठ्ठ गांव के पप्पू पुत्र रामचंद्र ने पिनगवां पुलिस को शिकायत दी की उसके गांव के जिला पार्षद मुमताज सहित कई लोग उसे धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का काम कर रहे हैं। उसके साथ मारपीट भी की गई है और धर्म परिवर्तन नहीं करने पर जान से मारने की धमकी भी दी जा रही है।

पुलिस ने शिकायत मिलते ही मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जब इस बारे में पिनगवां थाना एसएचओ चंद्रभान से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि पप्पू निवासी रिठ्ठ ने उन्हें शिकायत दी है। पुलिस ने शुरुआती जांच में पाया की जो व्यक्ति आरोप लगा रहा है वह गत एक अगस्त को ईद उल अजहा के पर्व पर दो पक्षों में हुए झगड़े में घायल हुआ था, लेकिन जो आरोप उसने लगाए हैं उनकी जांच की जा रही है।

थाना प्रभारी ने बताया कि मारपीट, धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने, जान से मारने की धमकी इत्यादि धाराओं के तहत जिला पार्षद मुमताज सहित 14 लोगों को नामजद किया गया है। मामले में जांच की जा रही है, अगर पीड़ित पक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों में सच्चाई नजर आती है तो नामजद लोगों के खिलाफ़ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

वहीं जब पीड़ित पक्ष के लोगों से मीडिया कर्मियों ने बात की तो उन्होंने आरोप लगाए की गांव के दबंग प्रवृत्ति के लोग उनके साथ मारपीट करते हैं। धर्म परिवर्तन करने के लिए दबाव डालते हैं, साथ ही मारपीट भी उनके साथ की जाती है। पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया है। अब आगामी कार्रवाई का इंतजार है। जिले में यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी अलग – अलग क्षेत्रों में इस प्रकार की शिकायत पुलिस विभाग को पहले भी मिलती रही हैं।

—PTC NEWS—