अपराध/हादसा

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में फतेहाबाद से तीसरी गिरफ्तारी, 8 दिन बाद भी हत्या की गुत्थी अनसुलझी

By Vinod Kumar -- June 06, 2022 11:20 am -- Updated:June 06, 2022 6:06 pm

फतेहाबाद/साहिल रुख्या:

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पंजाब की मोगा पुलिस ने फतेहाबाद के मुस्सावाली गांव से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए व्यक्ति का नाम देवेंद्र उर्फ काला है। देवेंद्र के खिलाफ फतेहाबाद सदर थाना में 6 NDPS के मामले दर्ज हैं। देवेंद्र के खिलाफ पंजाब में 2 किलोग्राम अफीम का भी केस दर्ज हैं।

पंजाब पुलिस को इनपुट मिला था कि पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला मर्डर मामले में दवेंद्र उर्फ काला ने अपने घर में पंजाब के रहने वाले दो व्यक्तियों केशव व चरणजीत सिंह को 16 व 17 मई अपने घर ठहराया था। ये दोनों ही पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला मर्डर मामले में संलिप्त बताए जा रहे हैं। इस बात का खुलासा तीन दिन पहले पंजाब पुलिस की ओर से पकड़े गए पवन और नसीब ने पुलिस के समक्ष किया था।

बोलेरो गाडी को नसीब राजस्थान के रावतसर से लेकर आया था। जिसके बाद चरणजीत सिंह व केशव को नसीब ने रतिया पुल के पास बुलेरो गाडी सौंप दी। चरणजीत सिंह फतेहाबाद से इस गाड़ी को पंजाब लेकर गया था। इसी बोलेरो गाड़ी को कुख्यात बदमाश प्रियव्रत फौजी और अंकित जाटी ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या के लिए इस्तेमाल किया था।

मूसेवाला की हत्या में इस्तेमाल की गई बोलेरो गाड़ी का एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था। फतेहाबाद में पेट्रोल डलवाते समय गाड़ी से 2 व्यक्ति उतरे थे। इन दोनों की पहचान कुख्यात बदमाश प्रियव्रत फौजी औक दूसरा कुंडली में जांटी रोड स्थित गांव सेरसा का अंकित जांटी के रूप में हुई है।

मूसेवाला के मर्डर में फौजी और जांटी के शामिल होने का शक है। पंजाब पुलिस ने दोनों की गिरफ्तारी को लेकर सोनीपत में छापेमारी भी कर चुकी है। मूसेवाला के कातिलों के तार सोनीपत से जुड़ने के बाद पुलिस भी अलर्ट है, लेकिन अभी भी हत्यारों को पकड़ने में कामयाबी नहीं मिली है।

 

  • Share