हिंसक झड़क में घायल हुए किसानों से मिलने पहुंची अभिनेत्री सोनिया मान, कही ये बात

हिंसक झड़क में घायल हुए किसानों से मिलने पहुंची अभिनेत्री सोनिया मान, कही ये बात

हिसार। पंजाबी, मलयाली व तेलगू फिल्मों की एक्ट्रेस सोनिया मान ने कहा है कि वो जितना सुरक्षित खुद को पंजाबी आंदोलन के बीच टीकरी बॉर्डर पर महसूस करती हैं, उतना शायद अपनी गली में भी नहीं होंगी। हिसार में पत्रकारों से बातचीत में सोनिया मान ने ये बात टीकरी बॉर्डर पर बंगाल से आयी एक्टिविस्ट के साथ हुए रेप की घटना के बारे में पूछे जाने पर कही। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन में ऐसा कुछ नहीं हुआ। वह खुद वहां 5 महीनों से रह रही हैं और पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

हिसार में किसानों और पुलिस के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद घायल हुए किसानों से मिलने के लिए हिसार पहुंची सोनिया मान सबसे पहले रामायण टोल प्लाजा पर गयी और वहां बैठे किसान आंदोलनकारियों से मिली। वहां कुछ घायल किसानों का उन्होंने हालचाल जाना।

इसके बाद वह पास ही के एक गांव में उस घायल महिला से मिलने पहुंची जिसे इस झड़प के दौरान सिर पर चोट लगी थी। घायल महिला से सोनिया मान ने हालचाल जाना और अपनी तरफ से 11 हजार रुपये की मदद भी की। इसके बाद वह चंडीगढ़ रोड स्थित टोल प्लाजा पर भी गयी और वहां भी कुछ घायल किसान आंदोलकारियों से मिली।

यह भी पढ़ें- लॉकडाउन में हरियाणा पुलिस ने पकड़ी अवैध शराब की खेप

यह भी पढ़ें- हुड्डा ने सीएम खट्टर को लिखा खुला पत्र

इस हिंसक घटना पर सोनिया मान ने कहा कि पुलिस ने जिस तरह से किसानों पर अटैक किया है वो गलत है। ये इंसानियत वाली बात नहीं है। सीएम और बीजेपी का जब विरोध हो रहा है तो उन्हें जनता के बीच आना ही नहीं चाहिए। कम से कम उन्हें अपने वोटों का ख्याल रखना चाहिए, क्योंकि इन्हीं लोगों से वो भविष्य में वोट मांगने जायेंगे। सोनिया ने साथ ही कहा कि पुलिस कर्मियों किसानों को पीटने के बजाये उनकी रक्षा करनी चाहिए।