चक्रवाती तूफान ‘ताऊते’ गुजरात तट की ओर हुआ प्रभावी, पश्चिम रेलवे ने 56 ट्रेनें की रद्द

नई दिल्ली। अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान ताऊते और प्रभावी हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार, इसके मंगलवार तक गुजरात के तट के पास पहुंचने की संभावना है, जहां भारी वर्षा होगी। गुजरात के साथ ही केंद्र शासित प्रदेश दमन एवं दीव और दादरा एवं नगर हवेली में भी कहर बरपा सकता है।

इसी के चलते गुजरात और दीव में अति भीषण चक्रवाती तूफान के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। तूफान के चलते महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में भारी बारिश की आशंका है, जबकि केरल और तमिलनाडु में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। कर्नाटक के तटीय इलाकों से लेकर गोवा तक बारिश और तेज हवाओं से बड़े नुकसान की खबर है। कर्नाटक में वर्षाजनित हादसों में चार लोगों की मौत हो गई है।

गुजरात में तूफान पोरबंदर और नलिया के बीच से गुजरात के तटों को पार कर सकता है। चक्रवात के कारण जूनागढ़, गिर सोमनाथ, पोरबंदर, द्वारका, अमरेली, राजकोट, जामनगर और दीव सहित गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ में भारी बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़ें: हिसार में 500 बेड के अस्थाई कोविड अस्पताल का उदघाटन

यह भी पढ़ें: अपनी विफलताओं का ठीकरा किसानों के सिर फोड़ने में लगी है सरकार : अशोक अरोड़ा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि चक्रवात ताऊते से निपटने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह तैयार है। एक समीक्षा बैठक के बाद रविवार को ही उन्होंने कहा कि सरकार चक्रवात पर नजर बनाए हुए है और हर जरूरी कदम उठा रही है।