जानिए क्यों 21 प्रहर के मौन व कठोर तपस्या में लीन हुईं प्रज्ञा सिंह ठाकुर

Sadhvi-Pragya-Singh
जानिए क्यों 21 प्रहर के मौन व कठोर तपस्या में लीन हुईं प्रज्ञा सिंह ठाकुर

भोपाल। बीजेपी उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर 21 प्रहर के मौन व कठोर तपस्या में लीन है। इस कठोर तपस्या का कारण उनके चुनाव के दौरान बोले गए विवादित बोल हैं। जिसके प्रयश्चित के लिए साध्वी 21 प्रहर के मौन व कठोर तपस्या में है। चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने के बाद साध्वी ने चिंतन मनन कर यह फैसला लिया है।

वहीं साध्वी का कहना है कि इस दौरान उनके शब्दों से समस्त देशभक्तों को यदि ठेस पहुंची है तो उसके लिए वो क्षमा प्रार्थी हैं।

Sadhvi-Pragya
जानिए क्यों 21 प्रहर के मौन व कठोर तपस्या में लीन हुईं प्रज्ञा सिंह ठाकुर

गौरतलब है कि साध्वी ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की गोली मार कर हत्‍या करने वाले नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। हालांकि बाद में उन्होंने माफी मांग ली थी। यहां तक प्रधानमंत्री ने इस बयान के लिए उनकी आलोचना की थी। साध्वी ने इसी तरह के कई बयान चुनाव प्रक्रिया के दौरान दिए थे, जिसका अब वो प्रयश्चित कर रही हैं।

यह भी पढ़ें : विज की सिद्धू को सलाह- इमरान खान की पार्टी में हो जाना चाहिए शामिल

—-PTC NEWS—

पीटीसी की खबरें देखने के लिए सब्सक्राइब करें यू ट्यूब चैनल