संयुक्त किसान मोर्चा और खाप पंचायतों का खुला ऐलान, सीएम के प्रोग्राम का करेंगे पुरजोर विरोध

Khap Panchayats Meeting Sonipat
संयुक्त किसान मोर्चा और खाप पंचायतों का खुला ऐलान, सीएम के प्रोग्राम का करेंगे पुरजोर विरोध

सोनीपत। (जयदीप राठी) तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन लगातार जारी है। इस बीच सोनीपत कुंडली बॉर्डर पर किसान नेता और खाप पंचायतों की एक अहम बैठक हुई जिसमें फैसला लिया गया कि सोनीपत में 14 अप्रैल को होने वाले सीएम के प्रोग्राम का पुरजोर विरोध किया जाएगा। इस बैठक में संयुक्त किसान मोर्चा के आला नेता मौजूद रहे।
किसान नेता राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि सभी खाप पंचायतों और किसान नेताओं ने फैसला लिया है कि सीएम के 14 अप्रैल के कार्यक्रम का पुरजोर विरोध किया जाएगा और इसके लिए रणनीति तैयार कर ली गई है। जब उनसे सवाल पूछा गया कि क्या वह इस विरोध में शामिल होंगे तो उन्होंने कहा कि जब हम कार्यक्रम ही नहीं होने देंगे तो शामिल होने का सवाल ही नहीं उठता, उनके हेलीपैड की ईंट से किसान अपना नाम मकान बनाएंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा और खाप पंचायतों का खुला ऐलान, सीएम के प्रोग्राम का करेंगे पुरजोर विरोध

यह भी पढ़ें- भारत में अक्टूबर तक 5 और कोरोना वैक्सीन होंगी उपलब्ध

यह भी पढ़ें- हिमाचल आने पर दिखानी होगी RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट

Khap Panchayats Meeting Sonipat
संयुक्त किसान मोर्चा और खाप पंचायतों का खुला ऐलान, सीएम के प्रोग्राम का करेंगे पुरजोर विरोध

वहीं राकेश टिकैत ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर के बातचीत वाले बयान पर बोलते हुए कहा कि नरेंद्र तोमर किसान मोर्चा के सदस्य नहीं है वह फैसला नहीं करेंगे कि आंदोलन खत्म होगा या नहीं, वह इस किसान आंदोलन को शाहीनबाग समझने की भूल ना करें।

संयुक्त किसान मोर्चा और खाप पंचायतों का खुला ऐलान, सीएम के प्रोग्राम का करेंगे पुरजोर विरोध

वहीं किसान नेता योगेंद्र यादव और दर्शन पाल ने कहा कि सीएम का यह कार्यक्रम रखकर सरकार आपसी भाईचारा बिगाड़ना चाहती है और हम सीएम मनोहर लाल खट्टर का कार्यक्रम नहीं होने देंगे।