हरियाणा

यूपी में NCR की तर्ज पर बनेगा SCR, 7 जिले के क्षेत्रों को किया जाएगा शामिल

By Vinod Kumar -- September 03, 2022 11:47 am

यूपी में एनसीआर की तर्ज पर यूपीएससीआर 'उत्तर प्रदेश राज्य राजधानी क्षेत्र' गठित करने की कवायद शुरू हो गई। लखनऊ में एससीआर क्षेत्र को विकसित किया जाएगा। एससीआर में राजधानी लखनऊ, सीतापुर, कानपुर देहात, कानपुर नगर, बाराबंकी, रायबरेली, उन्नाव, समेत सात जिले शामिल किए जाएंगे। लखनऊ में तेजी से बढ़ रही आबादी को देखते हुए योगी सरकार ने यह फैसला लिया है।

SCR बनने के बाद लखनऊ के साथ साथ इसमें शामिल जिलों का एकसमान विकास विकास किया जाएगा। एक पैटर्न पर विकास योजनाएं बनेंगी। योगी सरकार की इस योजना से इन इलाकों में विकास की गति बढ़ जाएगी। इसके साथ ही सराकरी योजना का भी विस्तार होगा। इसका फायदा यह होगा कि लखनऊ में बढ़ती आबादी को नियंत्रित किया जा सकेगा।

एससीआर का केंद्र बिंदु लखनऊ-बाराबंकी बॉर्डर होगा। 2031 तक एसीआर के क्षेत्र शामिल किए जाएंगे। प्रपोजल में जमीन से लेकर हर क्षेत्र को लेकर जानकारी शामिल की जाएगी। इसी प्लान के तहत कानपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए जमीन खोजने के निर्देश दे दिए हैं।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ मेट्रोपोलिटन सिटी के तौर पर अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस हो रही है। अलग-अलग शहरों लोग यहां आकर अपना स्थायी निवास बना रहे हैं। आस-पास के जिलों में भी जनसंख्या का दवाब बढ़ रहा है इसलिए भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए एनसीआर की तर्ज पर 'उत्तर प्रदेश राज्य राजधानी क्षेत्र' का गठन किया जाना चाहिए।

सीएम योगी ने कहा कि बीते 5 साल के दौरान यूपी में विश्वस्तरीय सुविधाओं का विस्तार हुआ है। आरआरटीएस और मेट्रो जैसी अत्याधुनिक ट्रांसपोर्ट सर्विस हो या शुद्ध पेयजल, इंटीग्रेटेड टाउनशिप का विकास यूपी ने हर क्षेत्र में तरक्की की है।

 

  • Share