खुद वैक्सीन लगवाकर लोगों में कोरोना के प्रति भ्रम फैला रहे हैं कुछ राजनीतिक लोग: दुष्यंत चौटाला

खुद वैक्सीन लगवाकर लोगों में कोरोना के प्रति भ्रम फैला रहे हैं कुछ राजनीतिक लोग: दुष्यंत चौटाला

चंडीगढ़। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कुछ लोगों ने गांवों में कोरोना संक्रमण के खिलाफ भ्रम फैलाया कि गांवों में कोरोना नहीं फैल रहा और न ही कोई वैक्सीनेशन करवाएं, ऐसी सोच के लोगों ने ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को कोरोना के बचाव के प्रति दूर रखा। उन्होंने आगे कहा कि ग्रामीणों ने देशभर में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए गांवों में खुद लॉकडाउन लगाने के साथ-साथ नाके भी लगाए ताकि कोरोना का फैलाव न हो।
Deputy CM

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ग्रामीणों के सहयोग से कोरोना का रोकथाम कर पाई है। साथ ही डिप्टी सीएम ने कहा कि वैक्सीनेशन का विरोध करवाने वाले लोगों से जरूर पूछना चाहिए कि वे खुद क्यूं वैक्सीनेशन करवा रहे है?

यह भी पढ़ें: हरियाणाः ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की कालाबाजारी में दो रंगे हाथों गिरफ्तार

दुष्यंत चौटाला ने वित्त मंत्री को लिखा पत्र, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पर लगने वाले GST को हटाने की मांग

कोरोना वैक्सीन को लेकर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा ऑनलाइन बुकिंग के साथ गांव-गांव जाकर वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार वैक्सीन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए अन्य देशों से भी वैक्सीन की व्यवस्था करने के प्रयास कर रही है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य सरकार भी वैक्सीन का उत्पादन व सीधी खरीद के लिए प्रयासरत है और इसके लिए उन्होंने खुद डॉ. रेड्डी लैब के एमडी डॉ. सतीश रेड्डी से बातचीत की हैं।

उन्होंने कहा कि रेड्डी लैब द्वारा हमारे पास प्रपोजल आया है कि अगर उनका उत्पादन चार फैक्ट्रियों में शुरू होता है तो जुलाई के अंत तक प्रदेश सरकार वैक्सीन की सीधी खरीद उनसे कर पाएगी। इसी तरह ग्लोबली उपलब्ध होने वाली अन्य वैक्सीन को जैसे-जैसे आईसीएमआर मंजूर करेगा तो उसकी सीधी खरीद के लिए सरकार ने पहले से ही टेंडर निकाला दिया है। साथ ही डिप्टी सीएम ग्रामीणों से आग्रह किया कि वे अपने-अपने सीएमओ से समन्वय स्थापित करके अपने गांवों में वैक्सीनेशन के लिए स्पेशल कैंप लगवाएं ताकि टीकाकरण होने के बाद उन्हें कोरोना से सुरक्षित रखने में वैक्सीनेशन सुरक्षा कवच बने।