सड़कों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों/ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई: सीएम

Road Construction Himachal
सड़कों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों/ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई: सीएम

शिमलामुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि सड़कें राज्य के विकास को दर्शाती है और उनकी स्थिति के आधार पर लोग विकास का अनुमान लगाते हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों के निर्माण कार्य में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए और गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की ढील नहीं बरती जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सड़कों एवं पुलों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों और ठेकेदारों व कार्य में अनावश्यक देरी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Road Construction Himachal
सड़कों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों/ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई: सीएम

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने यहां लोक निर्माण विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को निर्माणाधीन परियोजनाओं को समयबद्ध तरीके से पूर्ण करने के निर्देश दिए। इससे परियोजना लागत में भी बढ़ोतरी नहीं होगी। जय राम ठाकुर ने विभाग को मुख्यमंत्री की घोषणाओं और जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया जा चुका है उन्हें प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने को कहा। उन्होंने कहा कि जिन परियोजनाओं का कार्य पूर्ण होने वाला है, उन्हें भी प्राथमिकता दी जानी चाहिए।
यह भी पढ़ें- डिप्टी सीएम ने 42 महिला जनप्रतिनिधियों को स्कूटी देकर किया सम्मानित

मुख्यमंत्री ने राज्य में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर दूसरा स्थान प्राप्त करने के लिए लोक निर्माण विभाग को बधाई देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार पोषित यह कार्यक्रम, राज्य में 250 से अधिक जनसंख्या वाली बस्तियों को सड़क से जोड़ने में वरदान साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत वर्ष 2020-21 के दौरान सबसे अधिक लम्बी सड़कें बनाने के लिए देश के 30 शीर्ष जिलों में मण्डी जिला ने प्रथम स्थान प्राप्त किया और राज्य के सात जिलों ने भी 30 शीर्ष जिलों में अपना स्थान बनाया। यह विभाग के कार्य निष्ठा और केन्द्रित दृष्टिकोण से संभव हो पाया है।

Road Construction Himachal
सड़कों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों/ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई: सीएम

educareमुख्यमंत्री ने विभिन्न परियोजनाओं के क्रियान्वयन के कार्य के आंबटन में देरी पर चिंता व्यक्त करते हुए विभाग के अधिकारियों को कार्य के आबंटन की अवधि को कम करने की प्रणाली विकसित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्य के आबंटन में तेजी लाने को कहा और किसी भी प्रकार की समस्या आने पर मामला वरिष्ठ अधिकारियों के समक्ष रखने को कहा। उन्होंने परियोजनाओं के क्रियान्वयन में सूचना प्रौद्योगिकी और आधुनिक तकनीक के प्रयोग पर बल दिया।

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु बोले- इस बार पिछले चुनाव की गलती नहीं करेगी बरोदा की जनता

Road Construction Himachal
सड़कों की खराब गुणवत्ता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों/ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई: सीएम

मुख्यमंत्री ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को राज्य में प्राधिकरण की विभिन्न योजनाओं का रख-रखाव सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्गों के रख-रखाव में किसी भी प्रकार की लापरवाही को गंभीरता से लिया जाएगा। उन्होंने राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर सभी गड्डों को 3 नवम्बर तक भरने को कहा।