अपराध/हादसा

लड़की से 100 से अधिक बार दुष्कर्म! कछुआ चाल जांच पर महिला आयोग ने पुलिस को फटकारा

By Arvind Kumar -- July 21, 2020 10:07 am -- Updated:Feb 15, 2021

कुरुक्षेत्र। (अशोक यादव) धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के उमरी गांव में किशोरी से वेश्यावृत्ति करवाने के मामले पर संज्ञान लेते हुए राज्यमहिला आयोग की सदस्य नम्रता गौड़ ने पुलिस को कड़ी फटकार लगाई है। उमरी में नाबालिग से गैंगरेप मामले में जांच करने पहुंची राज्य महिला आयोग की सदस्य नम्रता गौड़ ने तो यहां तक टिप्पणी कर डाली की कछुआ भी कुरुक्षेत्र पुलिस की जांच से तेज चलता है। उन्होंने कहा कि 100 से अधिक बार लड़की से दुष्कर्म हुआ लेकिन जांच में इतनी खामियां हैं कि माथा पीटने को जी करता है। उन्होंने कहा कि घटना में जो गाड़ी इस्तेमाल की गई उसकी अभी तक रिकवरी नहीं की गई।

नम्रता गौड़ के अनुसार लड़की को जो नशे के इंजेक्शन लगाए गए वह नशे के इंजेक्शन कहां से आए, इस बात की जांच नहीं की गई। उन्होंने कहा कि इतने संवेदनशील मुद्दे पर कुरुक्षेत्र पुलिस ने इतनी संवेदनशीलता बरती कि कुछ कहने की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि यह तो एक बहुत बड़ा स्कैंडल है और इस मामले में आरोपियों के खिलाफ विस्तृत रिपोर्ट बनाकर कार्रवाई की मांग की जाएगी।

Teenager pushed in prostitution | State women's commission raises question over police investigation

वहीं तरावड़ी गैंगरेप मामले में नम्रता गौड़ ने कहा कि झूठी शिकायत देने वाले और शिकायत देकर मुकरने वालों शिकायतकर्ताओं पर भी महिला आयोग कार्रवाई करेगा। उन्होंने कहा कि झूठी शिकायत देने वाले नहीं बचेंगे।

Teenager pushed in prostitution | State women's commission raises question over police investigation

संक्षिप्त में क्या था मामला

गौर हो कि गत 20 जनवरी 2020 को कुरुक्षेत्र के उमरी कस्बे से एक नाबालिग युवती लापता हो गई थी जिसकी 30 जनवरी को रपट गुमशुदगी दर्ज की गई। लेकिन 19 मई 2020 को यह लड़की बरामद हुई। मालूम हुआ कि उस लड़की को अगवा कर नशे का इंजेक्शन लगवाकर जबरन वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया गया था और सैकड़ों लोगों ने उससे बलात्कार किया था। किसी तरह से भाग कर उसने अपने घर पहुंच कर व्यथा सुनाई और तब पुलिस ने मामला दर्ज किया लेकिन ढुलमुल रवैया के कारण सभी लोगों को काबू नहीं किया गया।

---PTC NEWS---

  • Share