मुंबई से दिल्ली तक दौड़ लगाकर पहुंचा हिमाचल का यह शख्स

This man of Himachal reached on foot from Mumbai to Delhi
मुंबई से दिल्ली तक दौड़ लगाकर पहुंचा हिमाचल का यह शख्स

नाहन। हिमाचली बेटे सुनील शर्मा ने एक बार फिर बड़ा काम किया है। जिला सिरमौर से ताल्लुक रखने वाले हिमाचली बेटे अल्ट्रा मैराथन धावक सुनील शर्मा ने मुंबई से दिल्ली तक का सफर दौड़ लगाकर पूरा किया है। दौड़ की टैग लाइन ही रन फॉर डिस्एबल सोल्जर्स थी। 29 दिनों में सुनील शर्मा ने मुंबई से दिल्ली तक की दूरी तय की। अंतरराष्ट्रीय अल्ट्रा मैराथन धावक सुनील शर्मा के साथ कुमार अजवानी ने भी मुंबई से दिल्ली तक करीब 1525 किलोमीटर की मैराथन में दौड़ कर पूरा साथ दिया।

This man of Himachal reached on foot from Mumbai to Delhi
मुंबई से दिल्ली तक दौड़ लगाकर पहुंचा हिमाचल का यह शख्स

रविवार को देश की राजधानी दिल्ली के इंडिया गेट पर यह दौड़ पूरी हुई। खास बात यह है कि इस रन का मुख्य उद्देश्य सेना के दिव्यांग हुए जवानों के लिए राशि एकत्रित करना था। रन फॉर डिसएबल सोल्जर्स के तहत सुनील ने अपनी टीम के साथ सैनिकों के लिए करीब 20 लाख रुपए की राशि एकत्रित की। टीम ने रविवार सुबह गुरुग्राम के समीप से अंतिम चरण की दौड़ शुरू की थी।

This man of Himachal reached on foot from Mumbai to Delhi
मुंबई से दिल्ली तक दौड़ लगाकर पहुंचा हिमाचल का यह शख्स

यह मैराथन महाराष्ट्र, दमन और दीव, गुजरात, राजस्थान, हरियाणा होते हुए रविवार को दिल्ली में इंडिया गेट पर पहुंच कर संपन्न हुई। दौड़ का मकसद केवल और केवल चोटिल व दिव्यांग सैनिकों के लिए गंभीरता से फंड एकत्रित करना था। इस रन में मुंबई के उद्योगपति के कुमार अजवानी ने भी दौड़ को पूरा किया। अजवानी का मुंबई में फाईनेंस का बिजनेस है।

धावक सुनील का कहना है कि अगर हरेक भारतीय हर महीने अपने बैंक खाते से जवानों को एक रुपया भी दें, तो शहादत व घायल होने की स्थिति में जवानों के परिवारों को आर्थिक मदद की कोई कमी नहीं आएगी। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना के दिव्यांग सैनिकों को समर्पित इस रन को पूरा करने के बाद वह गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : दिल्ली विस चुनाव: क्या केजरीवाल दोहरा पाएंगे इतिहास, बीजेपी से कितनी है चुनौती?

—PTC NEWS—