1 लाख 20 हजार के दो ईनामी बदमाशों सहित एक सहयोगी हथियारों के साथ काबू

Two wanted rewarded criminals and an associate arrested with weapons in Haryana

चंडीगढ़। हरियाणा पुलिस ने अपराध पर नकेल कसते हुए अलग-अलग मामलों में दो ईनामी अपराधियों को काबू किया है, जिनकी गिरफ्तारी पर कुल 1 लाख 20 हजार रुपये का ईनाम घोषित था। पुलिस ने उनके एक साथी को भी गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से सात अवैध पिस्टल और 62 जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए।

 हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, डकैती और चोरी सहित कुल 70 आपराधिक मामलों में हरियाणा, उत्तरप्रदेश और राजस्थान पुलिस को दोनों ईनामी बदमाशों की लंबे समय से तलाश थी।

पहली घटना में, स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की एक टीम ने गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए हिसार के सिविल लाइन थाना क्षेत्र से शीशवाल निवासी 1 लाख के ईनामी बदमाश अशोक कुमार उर्फ शौकी और उसके सहयोगी अमरजीत उर्फ मोनू को काबू किया। पुलिस ने उनके कब्जे से 6 पिस्तौल (तीन .32 बोर, दो .315 बोर, एक 9 एमएम) और 57 जिंदा कारतूस भी बरामद किए। अशोक कुमार, जिस पर 1 लाख का ईनाम था, हरियाणा और राजस्थान में हत्या, हत्या के प्रयास, डकैती और लूट सहित 14 संगीन मामलों में वांछित था।

एक अन्य मामले में, फरीदाबाद में क्राइम ब्रांच ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए मथुरा जिले (यूपी) निवासी जगराम उर्फ जग्गा को गिरफतार किया जो राजस्थान और यूपी पुलिस की मोस्ट-वांटेड लिस्ट में शामिल था। उसके कब्जे एक देसी पिस्तौल और पांच कारतूस भी जब्त किए गए।

Two wanted rewarded criminals and an associate arrested with weapons in Haryanaप्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि जग्गा के खिलाफ राजस्थान में जघन्य अपराध के 23 मामले, उत्तर प्रदेश में 27 मामले और फरीदाबाद जिले में 6 मामले दर्ज हैं। जग्गा यूपी और राजस्थान का मोस्ट वांटेड अपराधी है। यूपी पुलिस ने इसकी गिरफ्तारी पर 15,000 रुपये, जबकि राजस्थान पुलिस द्वारा 5,000 रुपये का इनाम घोषित है। आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत तीनों आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज कर आगे की जांच जारी है।

—PTC NEWS—