4 साल के लिए बिना गारंटी मिलेगा 3 लाख करोड़ का लोन: निर्मला सीतारमण

Union Finance Minister Nirmala Sitharaman Press Conference

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को एमएसएमई सहित व्यवसायों के लिए 3 लाख करोड़ रुपए के ऋण की घोषणा की। उन्होंने कहा कि 4 साल के लिए बिना गारंटी 3 लाख करोड़ का लोन मिलेगा। इसका लाभ 31 अक्टूबर 2020 तक उठाया जा सकता है, सरकार के इस कदम से 45 लाख एमएसएमई को फायदा होगा। उन्होंने आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि समाज के कई वर्गों के साथ व्यापक विचार-विमर्श करने के बाद पीएम ने एक व्यापक दृष्टिकोण को आपके सामने रखा है।

वित्त मंत्री के मुताबिक जो एमएसएमई तनाव में हैं उन्‍हें सबआर्डिनेट डेट के माध्यम से 20000 करोड़ की नकदी की व्यवस्था की जाएगी. बता दें कि एसएमई में लघु और मझोले कारोबार आते हैं। – वित्त मंत्री के मुताबिक एमएसएमई जो सक्षम हैं, लेकिन कोरोना की वजह से परेशान हैं, उन्हें कारोबार विस्तार के लिए 10,000 करोड़ के फंड्स ऑफ फंड के माध्यम से मदद दी जाएगी। वित्त मंत्री के मुताबिक सार्वजनिक क्षेत्र को बैंकों से जुड़े सुधार, बैंकों के रिकैपिटलाइजेशन जैसे काम किए गए।

निर्मला सीतारमण ने कहा कि टीडीएस दरों में 25 फ़ीसदी की कटौती की गई है, इससे 50 हज़ार करोड़ रुपये का लाभ लोगों को मिलेगा। वहीं ITR भरने की तारीख 30 नवंबर तक बढ़ा दी गई है। फंड ऑफ फंड्स के माध्यम से MSME के लिए 50,000 करोड़ का इक्विटी इंफ्यूजन किया जाएगा, इससे एमएसएमई को आकार के साथ-साथ क्षमता विस्तार में भी मदद मिलेगी।

Union Finance Minister Nirmala Sitharaman Press Conferenceइस बीच वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि NBFC’s,हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां या माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूट के पास जो धन का अभाव रहता था उसको दूर करने के लिए 30000 करोड़ रुपए की स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम लाई गई है जिससे इनके धन की आपूर्ति होगी, इनको बल मिलेगा और आम नागरिक को भी लाभ होगा। वहीं अनुराग ने कहा कि EPF 12-12% से कम कर अगले तीन महीने तक 10 प्रतिशत कर दिया गया है। जो हमारे सरकारी संस्थान, PSU’s और PSE’s हैं उनमें ये 12% ही रहेगा।

—PTC NEWS—