किसानों को समझाने में कामयाब हुआ प्रशासन, कितलान टोल पर शुरू हुआ वैक्सीनेशन

By Arvind Kumar - May 23, 2021 9:05 am

भिवानी। भिवानी में कृषि क़ानूनों को लेकर आंदोलनकारी किसान अब महामारी से लड़ने के लिए आगे आए हैं। जिला प्रशासन की पहल पर किसानों ने वैक्सीनेसन कैंप में बढ़ चढ़ कर भाग लिया और कहा कि उनकी लड़ाई सरकार से है। प्रशासन की वो महामारी से लड़ाई में हर संभव मदद करेंगे।

उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी की दुसरी लहर जानलेवा साबित हुई है। इस महामारी से लड़ाई का सबसे बड़ा रामबाण वैक्सीन साबित हुई। पर आंदोलन कर रहे किसान शुरू से वैक्सीन लगवाने का विरोध करते आए हैं। ऐसे में आख़िरकार भिवानी प्रशासन किसानों को वैक्सीन के लिए मनाने में कामयाब रहा। जिसके बाद किसानों के लिए प्रशासन की तरफ़ से कितलाना टोल पर बैठे किसानों के लिए स्पेशल कैंप लगाया।

यह भी पढ़ें: हरियाणाः फरार चल रहे तीन इनामी अपराधी गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: कमलनाथ के बयान पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का पलटवार

WHO worried about uncontrolled corona in India, said – second year of epidemic is fatal for the worldये कैंप शिक्षा बोर्ड सचिव एवं महामारी में नियुक्त नोडल अधिकारी राजीव प्रसाद ने लगाया। राजीव प्रसाद ने बताया कि अब किसानों ने वैक्सीन के लिए बढ़ चढ़ कर भाग लिया है। उन्होने किसानों से धरने पर मास्क लगाने व सोसल डिस्टेंस की पालना करने की अपील की और कहा कि किसानों द्वारा वैक्सीन लगवाने पर गाँवों के दुसरे लोगों में भी अच्छा संदेश जाएगा। राजीव प्रसाद ने कहा कि सभी लोग वैक्सीन लगवाने के लिए आगे आएँगे तभी हम अपने लक्ष्य में कामयाब होंगे और महामारी पर विजय पाएँगे।

वहीं किसान नेता नरसिंह सांगवान ने बताया कि उनकी लड़ाई सरकार से है, प्रशासन से नहीं। उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन तो हमारा खुद का बचाव है। सांगवान ने कहा कि वो महामारी से बचाव के लिए जिला प्रशासन की हर संभव मदद करेंगे। किसान नेता ने कहा कि वो महामारी से बचाव के सभी तरीक़े अपनाएँगे, लेकिन सरकार से लड़ाई माँग पूरी होने तक जारी रहेगी।

adv-img
adv-img