मंत्री जी उद्घाटन को पहुंचे तो ग्रामीणों ने किया विरोध, 30 को हिरासत में लिया गया

Bawal villagers Protest
मंत्री जी उद्घाटन को पहुंचे तो ग्रामीणों ने किया विरोध, 30 को हिरासत में लिया गया

रेवाड़ी। बावल 84 के ग्रामीणों का गुस्सा उस वक्त फिर फूट पड़ा जब जम्मू कश्मीर के पुलवामा क्षेत्र में लगातार चल रहे आतंकी हमले में शहीद हो रहे जवानों के बावजूद प्रदेश के जनस्वास्थ्य मंत्री बावल नगर पालिका के नवनिर्मित भवन का उद्घाटन करने पहुंच गए। मंत्री के कार्यक्रम से ठीक पहले ग्रामीणों ने न केवल काले झंडे दिखाए बल्कि सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। कार्यक्रम के दौरान काले झंडे दिखाने वाले करीब 30 से अधिक ग्रामीणों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और उन्हें कसोला थाने ले आई।

Bawal villagers
कार्यक्रम के दौरान काले झंडे दिखाने वाले करीब 30 से अधिक ग्रामीणों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया

ग्रामीणों में इस बात को लेकर भारी रोष है कि करीब 8 महीने पहले बावल क्षेत्र के गांव मोहनपुर से लापता हुई नाबालिग छात्रा की बरामदगी न होने के बावजूद सरकार लगातार उद्घाटन पर उद्घाटन कर रही है, लेकिन लापता छात्रा की आज तक बरामदगी नहीं हो सकी है, जिसे लेकर बावल 84 के ग्रामीणों ने महापंचायत कर जनस्वास्थ्य मंत्री डॉ बनवारीलाल सहित जनप्रतिनिधियों का बहिष्कार भी किया हुआ है और इसे लेकर वे पिछले करीब 5 माह से जनस्वास्थ्य मंत्री के निवास के सामने धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

Bawal villagers
ग्रामीणों ने महापंचायत कर जनस्वास्थ्य मंत्री डॉ बनवारीलाल सहित जनप्रतिनिधियों का बहिष्कार भी किया हुआ है

वहीं ग्रामीणों में इस बात को लेकर भी भारी रोष है कि बीते 4 दिनों से जम्मू कश्मीर के पुलवामा इलाके में लगातार चल रही आतंकी गतिविधियों के दौरान देश के जवान शहीद हो रहे हैं। उनका कहना है कि उन शहीदों की चिताएं अभी ठंडी भी नहीं हुई है कि सरकार उद्घाटन करने में मस्त है।

इसी को लेकर बावल 84 के ग्रामीणों ने आज सुबह मंत्री के कार्यक्रम के दौरान जमकर बवाल काटा और काले झंडे दिखाकर अपना विरोध जताया। ग्रामीणों की मांग है कि जब तक लापता नाबालिग छात्रा की बरामदगी नहीं हो जाती, तब तक वह इसी तरह विरोध करते रहेंगे।

यह भी पढे़ंबजट स्पीच के दौरान पंजाब विधानसभा में हंगामा, अकाली नेताओं और सिद्धू में नोकझोंक