महिला लैब टेक्नीशियन ने स्‍थगित की शादी, बोली- पहले देश हो कोरोना से मुक्त

Woman lab technician postponed marriage amid Corona Crises

हिसार। देशभर में कोरोना योद्धा कोविड19 से जंग लड़ रहे है। फ्रंट लाइन पर खड़े स्वास्थ्य कर्मियों का योगदान अहम है। कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में हिसार की महिला स्वास्थ्यकर्मी भी पीछे नहीं है। व्यक्तिगत और पारिवारिक आवश्यकताओं को महत्त्व ना देते हुए दिन रात अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रहीं है। हिसार में भी सिविल अस्पताल में जहां महिला डॉक्टर, स्टाफ नर्स कोरोना से जंग लड़ने में अहम भूमिका निभा रही हैं, वहीं इस मामले में अस्पताल के लैब टैक्नीशियन भी पीछे नहीं है। सिविल अस्पताल में लैब टेक्नीशियन सोनिका कोरोना से इस युद्ध में प्रमुख भूमिका निभा रही है।

हिसार के नागरिक अस्पताल की लैब टैक्नीशियन सोनिका भी कोरोना के खिलाफ इस युद्ध में फ्रंट लाइन पर लड़ते हुए अहम् भूमिका निभा रही हैं। सोनिका के परिवार ने सोनिका की शादी का दिन तय किया लेकिन सोनिका के परिवार ने सोनिका के कर्तव्य को समझते हुए देश कोरोना मुक्त होने तक शादी को स्थगित की है। सोनिका सिविल अस्पताल में आने वाले मरीजों के सैंपल लेती है और उनकी जांच करती है। सैंपल के दौरान मरीजों के सीधे संपर्क में आती है, जहां उनमें कोरोना संक्रमण का खतरा बना रहता है। लेकिन इसके बावजूद शिद्दत से अपनी ड्यूटी निभा रही हैं। सबसे बड़ी बात सोनिका ने कोरोना से जंग लड़ने के चलते अप्रैल महीने में निर्धारित की गई अपनी शादी भी स्थागित कर दी।

Woman lab technician postponed marriage amid Corona Crisesसोनिका ने बतया की देश इस वक्त कोरोना महामारी से जूझ रहा है। स्वास्थ्यकर्मी होने के नाते उनका कर्तव्य है की व्यक्तिगत कार्यों की तरफ ध्यान ना देकर कर्तव्यों का पालन किया जाए। उन्होंने बताया की उनके परिवार वालों की तरफ से उन्हें इसको लेकर पूरा सहयोग मिल रहा है। सोनिका के अप्रैल महीने में शादी स्थागित करने के फैसले में परिजनों एवं ससुराल वालों ने भी सोनिका का साथ दिया है। सोनिका ने बताया कि उसके पिता रामफल खेती करते है। लेकिन वह कोरोना से इस जंग में उसकी भूमिका को समझते हैं इसलिए वह उसका पूरा साथ देते है।

—PTC NEWS—