हरियाणा

गोरखपुर अटैकः आतंकी संगठन के हनी ट्रैप में फंस गया था मुर्तजा, ISIS में होना चाहता था भर्ती

By Vinod Kumar -- April 08, 2022 10:42 am

गोरखनाथ मंदिर पर हमले के मामले में हनी ट्रैप का ऐंगल भी सामने आ रहा है। एटीएस की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने वाले अहमद मुर्तजा अब्बासी का सारा खेल एक मेल के साथ शुरू, जो ISIS कैंप की एक लड़की की ओर से आया था।

मुर्तजा ने बताया कि लड़की के बताए अकाउंट में उसने कई बार पैसे भी ट्रांसफर किए थे। वह आईएसआईएस में जाने की तैयारी भी कर रहा था। अहमद मुर्तजा अब्बासी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि एक लड़की ने अपनी फोटो भेजकर भारत आकर मिलने का वादा किया था। इतना ही नहीं मुर्जता ने मदद के लिए 40,000 रुपये भी भेजे थे। इसके बाद Email के जरिए ही बातचीत शुरू हो गई। इसके बाद अब्बासी ISIS में शामिल होने की तैयारी करने लगा था। इसके बाद उसकी ISIS के लोगों से बातचीत शुरू हो गई।

Gorakhnath temple, Gorakhnath temple attack, up, ahmad murtaza abbasi

यूपी एटीएस की जांच में ये खुलासा हुआ है कि मुर्तज़ा कट्टरपंथियों के कहने पर जरिमा नाम का जेहादी एप डिजाइन कर रहा था। जरिमा का अरबी अनुवाद जुल्म होता है। एप डिजाइन करने का मकसद इस एप के जरिए उन लोगों को जोड़ना था जो जिहाद के रास्ते पर आना चाहते हैं या जिन्हें लगता था कि मुसलमानों पर जुल्म हो रहा है। केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद मुर्तज़ा ने एप डेवलपर का कोर्स भी किया था।

Gorakhnath temple, Gorakhnath temple attack, up, ahmad murtaza abbasi

मुर्तजा का साइकलॉजिकल टेस्ट कराएगी पुलिस
गोरखपुर में हमला करने वाले मुर्तजा को मानसिक रूप से बीमार बताया गया था। माना जा रहा है कि मुर्तजा को बचाने के लिए गढ़ा गया तर्क था, क्योंकि उसकी पूर्व पत्नी ने इसे खारिज कर दिया था। अब पुलिस मनोवैज्ञानिक जांच कर मुर्तजा का सच सामने लाएगी। इसी कड़ी में यूपी पुलिस अब मुर्तजा का साइकलॉजिकल टेस्ट कराएगी। मुर्तजा के मानसिक बीमारी वाली थ्योरी की पुष्टि के लिए मुर्तजा के दिमागी हालत की जांच कराई जाएगी। वारदात के बाद से ही मुर्तजा के पिता मुनीर अहमद अब्बासी उसे मानसिक रूप से बीमार बता रहे थे।

Gorakhnath temple, Gorakhnath temple attack, up, ahmad murtaza abbasi

बता दें कि बीते रविवार की शाम को मुर्तजा ने गोरखनाथ मंदिर में तैनात सुरक्षाकर्मियों पर जानलेवा हमला किया था। इसके बाद पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया था। मामले की जांच एटीएस कर रही है।

  • Share