राजनीति

ईंधन के दामों में लगातार बढ़ोतरी के खिलाफ सड़क पर उतरी कांग्रेस, राहुल गांधी ने गैस सिलेंडर को पहनाई माला

By Vinod Kumar -- March 31, 2022 2:00 pm -- Updated:March 31, 2022 2:00 pm

देशभर में पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। बढ़ती कीमतों के खिलाफ विपक्ष सड़कों पर उतर गया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य सांसदों ने पार्टी के 'महंगाई मुक्त भारत' अभियान के तहत पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और सीएनजी की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ गुरुवार को संसद के निकट धरना दिया।

पार्टी सांसदों ने संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही आरंभ होने से करीब डेढ़ घंटे पहले विजय चौक पर कांग्रेस के महंगाई मुक्त भारत अभियान के तहत धरना दिया। इसमें राहुल गांधी के अलावा लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और कई अन्य सांसद शामिल हुए। कांग्रेस सांसदों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। इस दौरान राहुल गांधी ने मोटरसाइकिल और सिलेंडर पर फूल माला भी चढ़ाई।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि पिछले 10 दिन में 9 बार पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़ाए गए हैं और इसका परिणाम मध्यम वर्ग और गरीब लोगों पर पड़ता है। हमारी मांग है कि सरकार पेट्रोल-डीज़ल के दाम को बढ़ाना बंद करें। पूरे देश में हमारा प्रदर्शन चलेगा और काफी दिनों तक चलेगा।

इससे पहले राहुल ने ट्वीट कर लिखा की प्रधानमंत्री रोज पेट्रोल-डीजल-गैस की कीमतों को बढा रहे हैं। उनकी दिनचर्या में रोज के कुछ काम नियत हैं जिनमें उनका उद्देश्य
1. पेट्रोल-डीज़ल-गैस का रेट बढ़ाऊं
2. लोगों की ‘खर्चे पे चर्चा’ कैसे रुकवाऊं
3. युवा को रोज़गार के खोखले सपने कैसे दिखाऊं
4. आज किस सरकारी कंपनी को बेचूं
5. किसानों को और लाचार कैसे करूं

 

विजय चौक पर प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि जब दुनिया में कच्चे तेल के दाम सबसे कम थे, तब भी यह सरकार पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़ा रही थी। उन्होंने कहा कि 101 रुपये के तेल में से 52 रुपये सरकार एक्साइज टैक्स के रूप में ले रही है, जो कि जनता के साथ धोखा है। वहीं, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी आज शिमला में ईंधन की कीमतों में बढ़ोत्तरी के विरोध में पार्टी की हिमाचल प्रदेश इकाई के साथ विरोध प्रदर्शन किया।

 

  • Share