Wed, Feb 1, 2023
Whatsapp

पंचायती राज संस्थाएं खुद करेंगी धनराशि का खर्च, सरकार का नहीं होगा हस्तक्षेप: सीएम मनोहर

सीएम मनोहर लाल ने फरीदाबाद के नव नियुक्त सरपंच,पंचायत और जिला परिषद सदस्यों के कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरक्त की। सीएम ने कहा कि गांधी जी का देश की आजादी से पहले सपना था कि ग्राम स्वराज पंचायती राज संस्थाओं के चयनित प्रतिनिधियों के माध्यम से नीचे तक पहुंचता है। पंचायत का प्रतिनिधि धरातल तक योजनाएं ले जाने में बेहद कारगर है।

Written by  Vinod Kumar -- January 12th 2023 02:51 PM
पंचायती राज संस्थाएं खुद करेंगी धनराशि का खर्च, सरकार का नहीं होगा हस्तक्षेप: सीएम मनोहर

पंचायती राज संस्थाएं खुद करेंगी धनराशि का खर्च, सरकार का नहीं होगा हस्तक्षेप: सीएम मनोहर

पलवल/अभिषेक तक्षक: सीएम मनोहर लाल ने फरीदाबाद के नव नियुक्त सरपंच,पंचायत और जिला परिषद सदस्यों के कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरक्त की। सीएम ने अपने संबोधन में पलवल और फरीदाबाद जिला के नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को नए दायित्व की बधाई दी। इस दौरान उन्होंने स्वामी विवेकानंद की जयंती, राष्ट्रीय युवा दिवस, लोहड़ी और मकर सक्रांति, दक्षिण भारतीय त्योहार पोंगल की सभी को शुभकामनाएं भी दीं।

सीएम ने कहा कि आज हरियाणा में सरकार के 3000 दिन पूरे हो रहे हैं। इसके लिए आप सभी को बधाई देना चाहता हूं। गांधी जी का देश की आजादी से पहले सपना था कि ग्राम स्वराज पंचायती राज संस्थाओं के चयनित प्रतिनिधियों के माध्यम से नीचे तक पहुंचता है। पंचायत का प्रतिनिधि धरातल तक योजनाएं ले जाने में बेहद कारगर है। पंचायत चुनाव में 70 हजार प्रतिनिधि चुने गए हैं। सर्वसम्मति से प्रतिनिधियों का चुनाव करने वाली पंचायतों को 11 लाख, सरपंच 5 लाख, पंच के लिए 50 हज़ार की प्रोत्साहन राशि निर्धारित की गई है, जिसके चलते 300 करोड़ रुपए की राशि प्रोत्साहन स्वरूप जारी की गई है।


सीएम मनोहर लाल ने कहा कि पंचायतों की परंपरा ऋग्वेद में भी आती है, पंच को परमेश्वर का दर्जा दिया गया है। पुराने समय से पंचायतों पर भरोसा रहा है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ को जन आंदोलन बनाने में खाप-पंचायतों ने प्रशंसनीय काम किया है। इस बार बेटियां भी पंचायत चुनावों में चुनकर आई हैं, महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व मिला है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि, समाज मे शुद्धता की शुरुआत स्वयं से करनी चाहिए। पंचायतों को स्वायत बनाने का निर्णय लिया गया है। पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद अपना पैसा खुद खर्च करेंगी, इसमे सरकार हस्तक्षेप नहीं करेगी। हरियाणा सरकार ने 1100 करोड़ रुपए पंचायती राज संस्थाओं के मदर चाइल्ड अकॉउंट में हस्तांतरित किए हैं।

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ भावना जगाई है। सिस्टम को तकनीक के इस्तेमाल से पारदर्शी बनाया गया है। अब हर साल फसल बिक्री के 20 से 25 हजार करोड़ सीधे किसानों के खाते में जाते हैं। अब सब रिकॉर्ड ऑनलाइन हो जाएंगे। अब ग्रामीण विकास में सोशल ऑडिट का सिस्टम बनाएंगे, सोशल ऑडिट टीम का चयन ग्राम सभा से किया जाएगा।


- PTC NEWS

adv-img

Top News view more...

Latest News view more...