धर्म

Amarnath Yatra 2022: अस्थाई तौर पर रोकी गई अमरनाथ यात्रा, प्रशासन ने बताई ये बजह

By Vinod Kumar -- July 05, 2022 11:54 am

अमरनाथ यात्रा पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी गई है। बताया जा रहा है कि मौसम खराब होने की वजह से यह रोक लगाई गई है। प्रशासन की ओर से बताया गया है कि मौसम खराब होने और भूस्खलन की आशंका के चलते बालटाल और पहलगाम में अस्थाई तौर पर यात्रा पर रोका गया है।

तीर्थयात्रियों को मौसम साफ होने तक शिविरों में ही रुकने को कहा गया है। मौसम के साफ होने के बाद ही यात्रियों को आगे जाने की अनुमति दी जाएगी। घाटी में देर रात से बारिश हो रही है। कश्मीग घाटी में अगले 24 से 36 घंटे बारिश का अलर्ट भी जारी किया गया।

प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि कश्मीर घाटी में रात से ही बारिश का दौर जारी है। पहलगाम और बालटाल मार्ग पर बारिश के कारण भूस्खलन का खतरा बना रहता है। श्री अमरनाथ की पवित्र गुफा के करीब भी मौसम साफ नहीं है। ऐस में श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए यात्रा को स्थगित कर दिया गया है।

Security-up-for-Amarnath-Yatra-5

बता दें जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में अमरनाथ यात्रा 2022 के पहले चार दिनों में कुल 40,233 यात्रियों ने पवित्र गुफा मंदिर में दर्शन किए। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। रास्ते में हथियारों के साथ सीआरपीएफ को भी तैनात किया गया है।

Security-up-for-Amarnath-Yatra-4

इससे पहले सोमवार को 7,200 से अधिक श्रद्धालुओं का छठा जत्था कड़ी सुरक्षा के बीच बालटाल और पहलगाम आधार शिविरों के लिए जम्मू से रवाना हुआ। अधिकारियों ने बताया कि सीआरपीएफ की कड़ी सुरक्षा के बीच 332 वाहनों के काफिले में कुल 7,282 श्रद्धालु भगवती नगर यात्री निवास से रवाना हुए। इनमें 5,866 पुरुष, 1,206 महिलाएं, 22 बच्चे, 179 साधु और नौ साध्वियां हैं।

  • Share