अपराध/हादसा

विधवा भाभी पर थी देवर की बुरी नजर, शादी से मना करने पर उतारा मौत के घाट

By Vinod Kumar -- July 15, 2022 12:06 pm -- Updated:July 15, 2022 6:24 pm

भिवानी/किशन सिंह:

प्यार अंधा ही नहीं, हत्यारा भी होता है ये सब भिवानी के लाडनपुर गांव में देखने को मिला। जहां प्यार में अंधे देवर ने अपनी विधवा भाभी का गला काट कर मौत के घाट उतार दिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। परिजनों का कहना है कि हत्या में और भी लोग शामिल हैं।

बताया जाता है कि ढाणा लाडनपुर गांव निवासी 40 वर्षीय विधवा भतेरी दो बच्चों की मां थी। 32 वर्षीय महावीर रिश्ते में उसका देवर था। देवर की उस पर बुरी नजर थी। दो बच्चों का पिता होने के बाद भी महाबीर अपनी भाभी भतेरी से जबरन शादी करना चाहता था। जिसको लेकर वो उसका पीछा करता रहता था। भतेरी ने शादी से मना किया तो महाबीर ने उसे मौत के घाट उतार दिया।

महाबीर ने ख़ास जगह व समय चुनते हुये भतेरी को गांव के बाहर रेलवे लाइन के पास ले गया और किसी का शोर सुनाई ना दे। इसलिए ट्रेन आने पर भतेरी का गला काट कर हत्या की गई।

भतेरी के बेटे ने बताया कि महाबीर ने उनसे रंजिश पाली हुई थी और इसी को लेकर उसने अपने भाइयों व ससुराल वालों के साथ मिलकर उसकी मां की हत्या है। जब उनकी मां दवा लेकर आ रही थी तो रेलवे ट्रैक के पास ट्रेन आने पर हत्या को अंजाम दिया गया।

वहीं मामले की जांच कर रहे सदर थाना के एसएचओ इंस्पेक्टर पवन कुमार ने बताया कि महाबीर अपनी भाभी का हमेशा शादी के लिए पीछा करता था और शादी ना करने पर महाबीर ने भतेरी की निर्मम तरीके से हत्या की है। उन्होंने बताया कि आरोपी महाबीर को गिरफ़्तार कर लिया है और मामले की जाँच की जा रही है।

  • Share