हरियाणा

कुरुक्षेत्र: बारिश में धुली किसानों की मेहनत, धान की फसल मंडियों में हो रही खराब

By Vinod Kumar -- September 23, 2022 5:16 pm -- Updated:September 23, 2022 6:18 pm

कुरुक्षेत्र/अशोक यादव:

पिछले 3 दिन से जारी बरसात के कारण किसानों की धान को भारी नुकसान पहुंच रहा है। जहां खेतों में खड़ी धान पूरी तरह से पानी में डूब चुकी है। वहीं, मंडियों में पहुंची धान की खेप को भी भारी नुकसान पहुंच रहा है।

मंडी में ना तो इतनी व्यवस्था है कि सभी किसानों की धान शेड के नीचे रखी जा सके। ऐसे में खुले में पड़ी धान लगातार बरसात में खराब हो रही है। कुरुक्षेत्र में भी अनाज मंडियों में भी धान की फसल को बारिश से बचाने के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है। मंडियों में अव्यवस्था होने से किसानों में सरकार के प्रति खासी नाराजगी है।

किसानों का कहना है कि अगर बरसात ऐसे ही चलती रही तो किसान पूरी तरह बर्बाद हो जाएगा एक तरफ तो आढ़ती हड़ताल पर हैं दूसरी तरफ अभी तक सरकारी खरीद शुरू नहीं की गई है। सरकार को चाहिए कि जल्दी से किसानों की फसल की खरीद शुरू की जाए।

हालात यह हो चुके हैं कि मंडी में पड़ी धान अंकुरित होने लगी है। हवा ना लगने के कारण अब गांठें भी बनने लगी हैं। किसानों का कहना है कि अगर जल्द धान को हवा ना लगी तो पूरी धान खराब हो जाएगी। किसानों का कहना है कि जब तक बरसात है तब तक वह अपनी फसल को खुला नहीं छोड़ सकते।

  • Share