हरियाणा

शाहबाज शरीफ ने पीएम बनने से पहले ही अलाप लिया कश्मीर का राग, पढ़िए उनका बयान

By Vinod Kumar -- April 10, 2022 4:58 pm

पाकिस्तान में संयुक्त विपक्ष के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार शाहबाज शरीफ ने कहा है कि वह भारत के साथ शांति चाहते हैं, कश्मीर मुद्दे के समाधान के बिना शांति संभव नहीं है। इस्लामाबाद में जियो न्यूज से बात करते हुए शाहबाज शरीफ ने कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता राष्ट्रीय सद्भाव है और विपक्षी नेताओं के परामर्श से नई कैबिनेट का गठन किया जाएगा।

शाहबाज शरीफ ने कहा कि वह देश की अर्थव्यवस्था को सुधार कर लोगों को राहत देने की कोशिश करेंगे, देश में एक नए युग की शुरुआत करेंगे और आपसी सम्मान को बढ़ावा देंगे। नवाज शरीफ की वापसी और मुकदमों के सवाल पर शाहबाज शरीफ ने कहा कि नवाज शरीफ के मामलों को कानून के मुताबिक निपटाया जाएगा। बता दें कि पीएमएल-एन के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने सदन के नेता के पद के लिए नामांकन पत्र जमा कर दिया है।

नेशनल असेंबली सचिवालय ने सदन के नए नेता की नियुक्ति के लिए सोमवार दोपहर 2 बजे नेशनल असेंबली की बैठक बुलाई है। संयुक्त विपक्ष की ओर से शहबाज़ शरीफ पीएम पद के उम्मीदवार हैं। शहबाज़ शरीफ का पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनना तय माना जा रहा है। इधर इमरान खान की विदाई के बाद पीटीआई से शाह महमूद कुरैशी प्रधानमंत्री के पद के उम्मीदवार होंगे।

गौरतलब है कि मुल्क के 22वें प्रधानमंत्री खान को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पद से हटाया गया है और वह पाकिस्तान के इतिहास में अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाए गए पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं। उन्होंने 18 अगस्त 2018 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। उनका 10 अप्रैल 2022 तक 1,332 दिनों का कार्यकाल रहा। क्रिकेटर से नेता बने खान तीन साल सात महीने और 23 दिन तक प्रधानमंत्री पद पर रहे।

  • Share