देश का पहला अनाज ATM हरियाणा में, अब बटन दबाकर खुद अनाज ले सकेंगे लोग

By Arvind Kumar - July 14, 2021 4:07 pm

चंडीगढ़। हरियाणा के राशन डिपो आधुनिक हो रहे हैं। अब लोग बटन दबाकर खुद अनाज ले सकेंगे। दरअसल देश के पहले अनाज एटीएम 'अन्नपूर्ती' की शुरुआत हरियाणा के गुरुग्राम जिले से हुई है। फर्रूखनगर में देश का पहला अनाज ATM स्थापित किया गया है।

इसका उद्देश्य विभिन्न सरकारी योजनाओं में मिलने वाले अनाज के वितरण को सुगम एवं पारदर्शी बनाना है। इससे डिपो संचालकों की मनमानी बंद होगी और गरीब लोगों को मजबूती मिलेगी। ऐसे Grain ATM धीरे धीरे Haryana के सभी राशन डिपो पर लगाए जाएंगे।

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने इसे क्रांतिकारी कदम बताया है। उन्होंने ट्ववीट कर कहा, "बड़े गर्व के साथ साझा कर रहा हूं कि देश के पहले अनाज एटीएम 'अन्नपूर्ती' की शुरुआत हरियाणा के गुरुग्राम जिले से हुई है। इसका उद्देश्य विभिन्न सरकारी योजनाओं में मिलने वाले अनाज के वितरण को सुगम एवं पारदर्शी बनाना है।"

ऐसे काम करती है ग्रेन एटीएम मशीन

यह एक स्वचालित मशीन है जो कि बैंक एटीएम की तर्ज पर कार्य करती है। 'यूनाइटेड नेशन' के :वर्ल्ड फूड प्रोग्राम' के तहत स्थापित की जानी वाली इस मशीन को ऑटोमेटिड, मल्टी कमोडिटी, ग्रेन डिस्पेंसिंग मशीन कहा गया है। इस कार्यक्रम से जुड़े अधिकारी अंकित सूद का कहना है कि अनाज के मापतोल को लेकर इसमें त्रुटि न के बराबर है और एक बार में यह मशीन 70 किलोग्राम तक अनाज पांच से सात मिनट में निकाल सकती है।

मशीन में लगी टच स्क्रीन के साथ एक बायोमेट्रिक मशीन भी लगी हुई है, जहां पर लाभार्थी को आधार या राशन कार्ड का नंबर डालना होगा। बायोमेट्रिक से प्रमाणिकता होने पर लाभार्थियों को सरकार द्वारा निर्धारित अनाज स्वत: मशीन के नीचे लगाए गए बैग में भर जाएगा। इस मशीन के माध्यम से तीन तरह के अनाज गेहूं, चावल और बाजरा का वितरण किया जा सकता है। फिलहाल फर्रुखनगर में स्थापित ग्रेन एटीएम मशीन से गेहूं का वितरण शुरू कर दिया गया है।

adv-img
adv-img