हरियाणा

आंदोलन में शामिल किसान की हॉर्ट अटैक से मौत, किसान नेता बोले- लाठीचार्ज में आई थी चोट

By Arvind Kumar -- August 29, 2021 1:58 pm -- Updated:August 29, 2021 1:58 pm

झज्जर। पिछले 9 महीने से किसान आंदोलन में अपनी भूमिका निभा रहे किसान सुशील काजल की मौत हो गई। रात को हार्ट फेल होने के कारण उनका निधन हुआ है। हालांकि किसान नेताओं का कहना है कि पुलिस लाठीचार्ज में उन्हें चोट आई थी।


ढासा बॉर्डर धरने पर किसानों ने मृतक किसान सुशील को श्रद्धांजलि दी और उनकी आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा। ढासा बॉर्डर धरने पर किसानों ने आज के अपने सभी प्रोग्राम रद्द करते हुए माइक को भी बंद कर दिया।

किसानों का कहना है कि पुलिस की इस बर्बरता पूर्वक कार्रवाई के कारण किसान की मौत हुई है। साथ ही किसानों ने कहा कि वह आखिरी सांस तक किसान आंदोलन को जारी रखेंगे।


यह भी पढ़ें- किसानों पर लाठीचार्ज करना बेहद निंदनीय और कायरतापूर्ण भरा कदम: अभय सिंह चौटाला

यह भी पढ़ें- हनी सिंह को कोर्ट की फटकार, कहा- कानून से ऊपर कोई नहीं

किसान नेता गुरनाम चढूनी ने सुशील काजल के निधन पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि किसान कौम इनके बलिदान की सदा आभारी रहेगी।

  • Share