धारा 144 के उल्लंघन पर अंबाला में किसान नेता राकेश टिकैत पर FIR

By Arvind Kumar - May 02, 2021 11:05 am

अंबाला। (कृष्ण बाली) कोरोना काल में धारा 144 का उल्लंघन कर महापंचायत करना किसान नेता राकेश टिकैत को महंगा पड़ गया। दरअसल राकेश टिकैत किसान मजदूर महापंचायत करने अंबाला के धुराली गांव पहुंचे थे। जहां महापंचायत में हजारों की भीड़ जुटाई गई। जिसमें न तो लोगों ने मास्क पहने थे और सोशल डिस्टेंसिंग का तो महापंचायत में नामोनिशान तक नजर नहीं आया।

ऐसे में टिकैत की महापंचायत हुई तो धारा 144 का भी जमकर उलंघन हुआ और जमकर कोरोना से बचाव के नियमों की धज्जियां भी उड़ाई गई। जिसके बाद अंबाला पुलिस ने अब किसान नेता राकेश टिकैत पर धारा 144 के उल्लंघन और महामारी फ़ैलाने के आरोपों में FIR दर्ज की है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि टिकैत पर धारा 144 का उल्लंघन करने और 269 और 270 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।
बता दें कि महापंचायत में राकेश टिकैत ने मंच से सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि ये सरकार सभी मुद्दों पर फेल हो चुकी है। इनको इस्तीफा दे देना चाहिए सरकार कोरोना पर व्यापार करने में लगी हुई है। राकेश टिकैत ने लोगों से दोबारा दिल्ली में संख्या बढ़ाने की भी अपील की थी।

राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि ये सेकंड वर्ल्ड वॉर की लड़ाई है। अब आंदोलन का दूसरा फेस शुरू हो चुका है। किसान अपनी फसलों की कटाई करके दोबारा लड़ाई में शामिल होने के लिए दिल्ली कूच कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- 6 मिनट के वॉक टेस्ट से लग जाएगा आपके स्वास्थ्य का पता, जानें कैसे घर पर करे स्वास्थ्य की जांच

यह भी पढ़ें- सोसाइटियों में Small Covid19 आइसोलेशन सेंटर बना सकेंगी RWA

Farmers struggling to get second dose of COVID-19 vaccine: Rakesh Tikait
राकेश टिकैत ने कोरोना के मामले में सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार कोरोना पर व्यापार कर रही है। ऑक्सीजन नहीं मिल रही है हवा के भी पैसे देने पड़ रहे हैं। भाजपा के स्वस्थ नेता भी हॉस्पिटलों में आकर लेट गए ताकि कोरोना ना हो जिसके कारण आम जनता को बेड नहीं मिल पा रहे हैं। लोगो को बेड व ऑक्सीजन के लिए भी सिफारिशें करनी पड़ रही है। हालात बहुत ज्यादा खराब हैं। सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए क्योंकि ये सरकार पूर्ण रूप से फेल हो चुकी है।

adv-img
adv-img