हरियाणा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिया बड़ा बयान, कहा: सेना भी चाहती है जम्मू कश्मीर से हटे अफस्पा

By Vinod Kumar -- April 23, 2022 5:59 pm

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने असाम के गुवाहाटी में 1971 के युद्ध के दिग्गजों के सम्मान समारोह में हिस्सा लिया. इस दौरान उन्होंने अफस्फा कानून को लेकर बड़ा बयान दिया है। रक्षा मंत्री ने जम्मू कश्मीर में अफस्पा कानून को लेकर कहा कि देश की सेना भी नहीं चाहती है कि जम्मू कश्मीर में यह कानून रहे।

यह पहली बार नहीं है जब राजनाथ सिंह ने कश्मीर घाटी में अफस्पा को हटाने पर बात की है। 2015 में गृह मंत्री के रूप में जम्मू-कश्मीर की अपनी यात्रा के दौरान सिंह ने कहा था कि सशस्त्र बल अधिनियम को स्थिति के अनुकूल होने पर हटाया जा सकता है।

राजनाथ ने कहा कि मणिपुर और नागालैंड के 15 पुलिस स्टेशनों से AFSPA हटा दिया गया। यह अपने आप में बहुत मायने रखता है। यह इस क्षेत्र में स्थायी शांति और स्थिरता का परिणाम है। कोई छोटी बात नहीं है कि पूर्वोत्तर के राज्यों में पिछले 3-4 साल से अफस्पा हटाने का काम किया जा रहा है। हाल ही में असम के 23 जिलों से अफस्पा को पूरी तरह से हटा दिया गया था।

इस दौरान उन्होंने भारत और चीन के बीच हुए युद्ध का जिक्र किया और कहा कि, चाहे दुनिया की कितनी भी बड़ी ताकत हो वो भारत माता का शीश नहीं झुका सकती है। सीमाओं के बाहर से देश पर निशाना साधने वाले आतंकियों से निपटने के लिए भारत सीमा पार करने से भी नहीं हिचकेगा। सरकार देश से आतंकवाद को खत्म करने पर काम कर रही है।


रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत यह संदेश देने में सफल रहा है कि आतंकवाद से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि पश्चिमी सीमा की अपेक्षा देश की पूर्वी सीमा पर इन दिनों शांति और स्थिरता है, क्योंकि बांग्लादेश मित्र देश है। वहां से घुसपैठ की समस्या लगभग खत्म हो गई है।

  • Share