खेल

अपनी मुक्कों की ताकत से दुनिया को बताया कौन निखत जरीन, कपड़ों तक के लिए लोग करते थे कमेंट

By Vinod Kumar -- May 20, 2022 3:16 pm

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल हासिल करने वाली निखत जरीन आज किसी परिचय की मोहताज नहीं है। उनके मुक्कों ने दुनियां को अपना परिचय करवा दिया है। निखत जरीन के लिए यहां तक पहुंचना आसान नहीं था। करियर में मुश्किल परिस्थितियों का सामना करने से वह मानसिक रूप से मजबूत बनी।

जरीन ने शानदार जीत के बाद कहा कि 2 सालों में मैंने सिर्फ अपने खेल पर फोक्स किया। मेरे खेल में जो भी खामियां थीं, उनमें सुधार लाया। मैंने अपने करियर में कई चुनौतियों का सामना किया। इन चुनौतियों ने मुझे दिमागी रूप से मजबूत बनाया है। मेरा मानना था कि चाहे कुछ भी हो जाए, मुझे लड़ना है और अपना बेस्ट देना है।

Nikhat Zareen wins gold at World Boxing Championships; 5th Indian woman to achieve feat

आज से ठीक दो साल पहले मैरीकॉम ने कहा था कि कौन निखत जरीन। दरअसल 2 वर्ष पूर्व तत्कालीन खेल मंत्री किरेन रिजिजू को निखत जरीन ने ओलंपिक क्वालीफायर के लिये फेयर ट्रायल करवाने के लिए एक पत्र लिखा था। इस पत्र के कारण उन्हें लोगों ने सोशल मीडिया पर ट्रोल कर दिया था। इसके साथ ही एमसी मेरीकॉम ने यहां तक कह दिया कि कौन निखत जरीन? जरीन इसके बाद हुए ट्रायल में मेरीकॉम से हार गईं थीं और टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाईं।

Boxer Nikhat Zareen becomes World Champion

खेल में भी लड़कियों को शॉर्ट्स और ट्रेनिंग शर्ट पहनने की आवश्यकता होती है। जरीन के बारे में लोगों ने कहा कि एक लड़की को ऐसा खेल नहीं खेलना चाहिए, जिसमें उसे शॉर्ट्स पहनना पड़े, लेकिन जरीन के परिवार ने उनका साथ दिया।

Boxer Nikhat Zareen becomes World Champion

2017 में नहीं खेल पाई थी जूनियर विश्व चैंपियनशिप
2011 में जूनियर विश्व चैंपियन जरीन कंधे की चोट के कारण नहीं खेल पाई। जरीन एक साल तक बॉक्सिंग रिंग से बाहर रहीं। 2018 में कॉमनवेल्थ गेम, एशियाई गेम्स और वर्ल्ड चैंपियनशिप में भाग नहीं ले पाई थीं।

बता दें कि गुरुवार को निखत ने इस्तांबुल में वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में थाईलैंड की जितपोंग जुतामास को 5-0 से हराकर फ्लाईवेट (52 किग्रा) वर्ग में स्वर्ण पदक जीता है।

  • Share