राजनीति

SYL मामले को लेकर कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी का बीजेपी पर पलटवार

By Arvind Kumar -- December 19, 2020 2:25 pm -- Updated:December 19, 2020 2:25 pm
  • कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी ने किया बीजेपी पर पलटवार
  • बीजेपी ने 6 वर्ष तक एसवाईएल मामले में क्यों नहीं किया काम
  • सुप्रीम कोर्ट ने 2016 में हरियाणा के हक में दिया था फैसला
  • पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी बंसीलाल ने दक्षिण हरियाणा में पानी पहुंचाने के लिए बनाई थी SYL
  • दादूपूर नालवी नहर को क्यों पाटा गया
  • हांसी बुरटाना नहर में दक्षिण हरियाणा के लिए पानी क्यों नहीं लाती सरकार
  • एसवाईएल मामले में गुमराह कर रही है बीजेपी सरकार

चंडीगढ़। एसवाईएल मामले को लेकर बीजेपी के उपवास व धरने पर कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी ने पलटवार किया है। तोशाम विधानसभा क्षेत्र से विधायक किरण चौधरी ने कहा कि एसवाईएल मामले में बीजेपी सरकार किसानों के साथ भद्दा मजाक कर रही है। उन्होंने कि आज प्रदेश में बीजेपी सरकार के मंत्री व पार्टी के नेता उपवास पर बैठे हैं, यह किसानों के साथ एक भद्दा मजाक है।

BJP fast for SYL SYL मामले को लेकर कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी का बीजेपी पर पलटवार

किरण चौधरी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने 2016 में हरियाणा के हक में एसवाईएल मामले में फैसला सुनाया और केंद्र व प्रदेश में बीजेपी की सरकार है, 6 वर्ष बीत गए इससे पहले बीजेपी ने एसवाईएल के काम पर ऊंगली तक नहीं उठाई। लेकिन अब किसानों का ध्यान भटकाने के लिए इस प्रकार का प्रोपेगेंडा बीजेपी ने रचा है।

BJP fast for SYL SYL मामले को लेकर कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी का बीजेपी पर पलटवार

किरण चौधरी ने कहा कि चौधरी बंसीलाल ने यह नहर दक्षिण हरियाणा में पानी पहुंचाने के लिए तैयार की थी। वहीं दक्षिण हरियाणा में पानी लाने के लिए दादूपूर नलवी नहर तैयार की गई थी। उसको भी पाटने का काम बीजेपी सरकार ने किया।

BJP fast for SYL SYL मामले को लेकर कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी का बीजेपी पर पलटवार

वहीं उन्होंने कहा कि दक्षिण हरियाणा को पानी देने के लिए हांसी बुटाना नहर तैयार की गई। जिस पर 400 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। बीजेपी सरकार उसमें पानी लाने की बात क्यों नहीं करती। किरण चौधरी ने कृषि मंत्री को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि कृषि मंत्री हरियाणा में पानी को लेकर समान बंटवारे की बात क्यों नहीं करते। किरण ने कहा कि बीजेपी कृषि के क्षेत्र में 3 कानूनों को थोप कर किसानों को बर्बाद करना चाहती है।

यह भी पढ़ें- डिप्टी सीएम की अधिकारियों को नसीहत, मनरेगा के तहत आवंटित धन को दबा कर ना बैठे

यह भी पढ़ेंकुमारी सैलजा ने सीएम खट्टर को लिखा पत्र, 212 गांवों से धारा 7ए रद्द करने की मांग

  • Share