राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस: हुड्डा

By Arvind Kumar - February 23, 2021 4:02 pm
  • भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ली कांग्रेस विधायक दल की बैठक, बजट सत्र को लेकर की चर्चा
  • एपीएमसी में एमएसपी की गारंटी का प्रावधान जोड़ने के लिए प्राइवेट मेंबर बिल लाया जाएगा- हुड्डा
  • शराब और रजिस्ट्री घोटाले के मुद्दे पर लाया जाएगा ध्यानाकर्षण प्रस्ताव- हुड्डा
  • भर्तियां रद्द करने, पेपर लीक, बढ़ती बेरोजगारी व अपराध के मुद्दे को सदन में उठाएगी कांग्रेस- हुड्डा
  • हरियाणा डोमिसाइल के नियमों और खेल नीति में बदलाव का किया जाएगा विरोध- हुड्डा

चंडीगढ़। पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आज चंडीगढ़ स्थित आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक ली। बैठक में विधानसभा के बजट सत्र में उठाए जाने वाले मुद्दों को लेकर चर्चा की गई। पत्रकारों को संबोधित करते हुए भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बताया कि कांग्रेस राज्यपाल अभिभाषण के बाद सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी। एपीएमसी एक्ट में संशोधन कर उसमें किसान के लिए एमएसपी की गारंटी का प्रावधान जोड़ने के लिए कांग्रेस की तरफ से एक प्राइवेट मेंबर बिल भी इसी सत्र में लाया जाएगा।

Hooda on Govt रोजगार देने की बजाय छीनने में लगी है सरकार: हुड्डा

हुड्डा ने कहा कि आज प्रदेश की जनता के सामने समस्याओं और विपक्ष के पास मुद्दों का अंबार लगा हुआ है। क्योंकि सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। मौजूदा सरकार में सिर्फ घोटाले हो रहे हैं, कोई काम नहीं हो रहा। कांग्रेस की तरफ से शराब और रजिस्ट्री घोटाले पर चर्चा के लिए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाया जाएगा। पीजीटी संस्कृत, टीजीटी इंग्लिश और ग्राम सचिव समेत एक के बाद एक भर्तियों के रद्द होने के मुद्दे को लेकर भी कांग्रेस प्रस्ताव लेकर आएगी। भर्तियों के पेपर लीक और बढ़ती बेरोजगारी से त्रस्त युवाओं के मुद्दे पर भी कांग्रेस सरकार से जवाब मांगेगी।

Hooda on Govt रोजगार देने की बजाय छीनने में लगी है सरकार: हुड्डा

इतना ही नहीं हरियाणा डोमिसाइल के नियमों और खेल नीति में किए गए बदलाव पर भी कांग्रेस अपना विरोध दर्ज करवाएगी। क्योंकि डोमिसाइल के नियमों में फेरबदल से प्रदेश की नौकरियों में अन्य राज्यों के लोगों की भागीदारी बढ़ेगी और हरियाणा की आरक्षित श्रेणियों एससी और बीसी को नौकरी मिलना मुश्किल हो जाएगा। जिस तरह से एसडीओ भर्ती में सामान्य श्रेणी के स्थानीय युवाओं को दरकिनार कर अन्य राज्य के युवाओं को तरजीह दी गई, उसी तरह डोमिसाइल नियमों में बदलाव के बाद एससी और बीसी श्रेणी के साथ किया जाएगा। इसी तरह खेल नीति में बदलाव से प्रदेश का नाम रौशन करने वाले खिलाड़ियों का हौसला टूटेगा। नई नीति में पैरा ओलंपिक समेत सभी खिलाड़ियों के हितों की अनदेखी की गई है।

यह भी पढ़ें- धरने पर बैठे किसानों को जनहित में खाली कर देनी चाहिए सड़कें: नयनपाल रावत

यह भी पढ़ें- देशभर में होंगी किसान महापंचायत, बंगाल में भी किसान ट्रैक्टर रैली करेंगे: टिकैत

Congress राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस: हुड्डा

पत्रकारों से बातचीत में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने एक बार फिर सरकार से किसान आंदोलन का जल्द समाधान निकालने की मांग की। उन्होंने कहा कि आंदोलन को 3 महीने पूरे होने वाले हैं। सरकार को अब किसानों की मांगें मानने में देरी नहीं करनी चाहिए। साथ ही उन्होंने किसानों से भी अपील की कि वो अपनी फसलों को किसी भी तरह का नुकसान ना पहुंचाएं।

adv-img
adv-img