DRDO की तकनीक से दिल्ली व हरियाणा में तैयार होगी ऑक्सीजन, इसी सप्ताह लगेंगे 5 प्लांट

नई दिल्ली। पीएम केयर्स फंड से तीन माह के भीतर देशभर में 500 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे। इसी के तहत राजधानी दिल्ली में इसी हफ्ते पांच ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जाएंगे। पहले एम्स ट्रॉमा सेंटर और आरएमएल अस्पताल में ऑक्सीजन संयंत्र लगाए जाएंगे। दोनों अस्पतालों के लिए संयंत्रों के उपकरण राजधानी पहुंच गए हैं।

इसके बाद सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और एम्स, झज्जर (हरियाणा) में भी अन्य संयंत्र इसी सप्ताह स्थापित किए जाएंगे। यह संयंत्र लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एलसीए) तेजस में उड़ान के दौरान ऑक्सीजन पैदा करने के लिए विकसित की गई मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट (एमओपी) तकनीक पर बनाये गए हैं।

इस तकनीक से एक मिनट में 1,000 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन किया जा सकता है। डीआरडीओ के एक अधिकारी ने बताया कि यह प्रणाली प्रति मिनट 190 मरीजों की जरूरत पूरा कर सकती है और 195 सिलेंडर प्रति दिन चार्ज कर सकती है।

यह भी पढ़ें- चंडीगढ़ में सबको फ्री में लगेगा कोरोना वैक्सीन का टीका

डीआरडीओ ने मेसर्स टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड, बेंगलुरु को 332 और मेसर्स ट्राइडेंट न्यूमेटिक्स प्राइवेट लिमिटेड, कोयंबटूर को 48 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट की आपूर्ति के आदेश दिए हैं।