सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित विशेषज्ञ कमेटी ने कृषि कानूनों पर 20 फरवरी तक मांगे सुझाव

By Arvind Kumar - February 09, 2021 5:02 pm

नई दिल्ली। कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित विशेषज्ञ कमेटी ने लोगों से 20 फरवरी तक सुझाव और राय मांगी है। सुझाव ईमेल और पोर्टल के जरिए दिए जा सकते हैं।

Suggestions on Farm Laws सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित विशेषज्ञ कमेटी ने कृषि कानूनों पर 20 फरवरी तक मांगे सुझाव

सभी किसान चाहे वे कोई विरोध प्रदर्शन कर रहे हों या नहीं और वे कानूनों का समर्थन करते हैं या विरोध करते हैं, समिति के विचार-विमर्श में भाग ले सकते हैं और अपने विचार बिंदुओं को सामने रख सकते हैं।

Suggestions on Farm Laws सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित विशेषज्ञ कमेटी ने कृषि कानूनों पर 20 फरवरी तक मांगे सुझाव

समिति, सरकार के साथ-साथ किसानों के संगठनों के प्रतिनिधियों और अन्य हितधारकों को सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट में दो महीने के भीतर अपनी सिफारिशों की एक रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

यह भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर सफाई कर्मियों की ‘ना’

Suggestions on Farm Laws सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित विशेषज्ञ कमेटी ने कृषि कानूनों पर 20 फरवरी तक मांगे सुझाव

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड आपदा से लिया सबक, हिमाचल में ग्लेशियरों पर होगा अध्ययन

गौर हो कि कृषि कानूनों पर भारत के मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति ए.एस. बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामसुब्रमण्यम की कोर्ट ने 12 जनवरी 2021 को एक अंतरिम आदेश पारित किया था और तीनों कृषि कानूनों पर एक समिति गठित की थी। इसका उद्देश्य कृषि कानूनों पर समस्याओं का उचित, न्यायसंगत और न्यायोचित समाधान करना था।

adv-img
adv-img