आजादी के बाद देश की पहली महिला अपराधी को होगी फांसी, जानिए क्या था जुर्म?

By Arvind Kumar - February 17, 2021 2:02 pm

नई दिल्ली। आजादी के बाद देश में कई अपराधियों को फांसी दी गई लेकिन अभी तक किसी महिला अपराधी को फांसी पर नहीं चढ़ाया गया। उत्तर प्रदेश के अमरोहा की शबनम पहली ऐसी महिला है जिसे आजादी के बाद फांसी पर चढ़ाया जाएगा।

First Indian Woman to be Executed आजादी के बाद देश की पहली महिला अपराधी को होगी फांसी, जानिए क्या था जुर्म?

मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शबनम की फांसी की सजा बरकरार रखी थी और अब राष्ट्रपति ने भी उसकी दया याचिका खारिज कर दी है। हालांकि फांसी की तारीख अभी तय नहीं है लेकिन माना जा रहा है कि मेरठ के पवन जल्लाद महिला को फांसी पर चढ़ाने वाले हैं।

First Indian Woman to be Executed आजादी के बाद देश की पहली महिला अपराधी को होगी फांसी, जानिए क्या था जुर्म?

दरअसल शबनम ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सात परिजनों की गला काटकर बेरहमी से हत्या कर दी थी। यह घटना अप्रैल 2008 की है। 14 अप्रैल, 2008 की रात को शबनम ने प्रेमी सलीम को घर बुलाया और परिवार को नींद की गोलियां खिलाकर सुला दिया। इसके बाद दोनों ने सात लोगों का गला काट कर उन्हें मौत की नींद सुला दिया।

यह भी पढ़ें- कृषि मंत्री जेपी दलाल पर बरसे अभय चौटाला, कहा- ऐसे व्यक्ति को सत्ता में बैठने का अधिकार नहीं

यह भी पढ़ें- एक ही अपार्टमेंट के 36 लोग कोरोना पॉजिटिव, पार्टी में संक्रमण फैलने की आशंका

First Indian Woman to be Executed आजादी के बाद देश की पहली महिला अपराधी को होगी फांसी, जानिए क्या था जुर्म?

वरिष्ठ जेल अधीक्षक शैलेंद्र कुमार मैत्रेय के मुताबिक अभी फांसी की तारीख तय नहीं है, लेकिन तैयारी शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि डेथ वारंट जारी होते ही शबनम को फांसी दे दी जाएगी।

adv-img
adv-img